ओडिशा का राज्य गान ‘बंदे उत्कल जननी’ हाई स्कूल सिलेबस में होगा शामिल

भुवनेश्वर. ओडिशा का राज्य गान ‘बंदे उत्कल जननी’ (Bande Utkala Janani) नौवीं और दसवीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल के पाठ्यक्रम  (High school curriculum) का हिस्सा होगा। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक(Naveen Patnaik) द्वारा प्रस्ताव को मंजूरी दिए जाने के बाद शुक्रवार को इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की गई।

अधिसूचना के अनुसार, महान कवि लक्ष्मीकांत महापात्र द्वारा लिखित ‘बंदे उत्कल जननी’ स्कूल की कक्षा 9 और 10 के पाठ्यक्रम का हिस्सा होगा। इस वर्ष की शुरुआत में, ओडिशा सरकार ने ‘बंदे उत्कल जननी’ को राज्य गान का दर्जा दिया था। 30 मई को मुख्यमंत्री नवीन पटनायक द्वारा किए गए आह्वान पर दुनिया भर के ओडिया (Odisha) ने कोविड-19 (Covid-19)योद्धाओं के सम्मान में ‘बंदे उत्कल जननी’ गीत गाया था। पटनायक ने कहा कि राज्य गान ओडिया छात्रों के बीच देशभक्ति को और मजबूत करेगा और उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेगा। ‘बंदे उत्कल जननी’ को ओडिशा में हर विधानसभा सत्र के अंतिम दिन समापन गीत के रूप में गाया जाता है। (एजेंसी)