जिहादी आतंकवाद के प्रश्न को लेकर पुणे विश्वविद्यालय ने माफी मांगी

पुणे. सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय (एसपीपीयू) (Savitribai Phule Pune University) (SPPU)ने बी-कॉम अंतिम वर्ष की परीक्षा में ”जिहादी आतंकवाद”(Jihadi terrorism) के बारे में एक प्रश्न को लेकर माफीनामा जारी किया है। रक्षा बजट से संबंधित विश्वविद्यालय के एक वैकल्पिक पाठ्यक्रम की ऑनलाइन परीक्षा में इस बारे में बहु-वैकल्पिक प्रश्न पूछा गया था।

सवाल में ”जिहादी आतंकवाद के प्रमुख कारणों” के बारे में पूछा गया था जिसके बहु-वैकल्पिक उत्तरों में ‘वैश्वीकरण, ‘हथियारों का प्रसार’ और ‘इस्लामी चरमपंथ के नाम पर हिंसा का इस्तेमाल’ दिए गए थे।” कुलपति डॉक्टर नितिन करमालकर(Dr Nitin Karmalkar) ने बुधवार को कहा कि कुछ लोगों ने सवाल पर आपत्ति जताई और इस मुद्दे को सोशल मीडिया पर उठाया है। उन्होंने कहा, ”विवाद न बढ़े, इसलिये हमने माफीनामा जारी किया है क्योंकि हमारे प्रश्नपत्र तैयार करने के स्तर पर कुछ त्रुटियां होने की संभावना है।” उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारियों से इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगा गया है। (एजेंसी)