UP में सात महीने बाद खुले स्कूल

लखनऊ. कोविड-19 महामारी ( Coronavirus) के मद्देनजर मार्च में घोषित लॉकडाउन के वक्त बंद किए गए प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा परिषद सहित सभी बोर्ड के स्कूल करीब सात महीने बाद सोमवार को खुल गए। माध्यमिक शिक्षा विभाग (Uttar Pradesh schools) की अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला (Aradhana Shukla) ने बताया कि प्रदेश में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद सहित सभी बोर्ड के कक्षा-9 से 12 तक के विद्यालयों में आज से पठन-पाठन का काम शुरू हो गया। प्रदेश भर में आज दो पालियों में भौतिक दूरी सहित सहित कोविड प्रोटोकॉल के नियमों का पालन करते हुए कक्षाएं संचालित की गयीं।

उन्होंने बताया कि विद्यालयों में सैनेटाइजर, हैण्डवाश, थर्मल स्कैनिंग एवं विद्यालय में प्राथमिक उपचार की व्यवस्था, परिसर की साफ-सफाई एवं स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था की बारीकी से पड़ताल की गयी। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक जिलों से प्राप्त सूचना के आधार पर कक्षा-9 से 12 तक के कुल 28,474 माध्यमिक विद्यालों में कुल 1,02,89,154 छात्रों के सापेक्ष 34,68,933 छात्रों के अभिभावकों ने अपने बच्चों को स्कूल भेजने पर सहमति जाहिर की है, जो कुल छात्रों का 33.71 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि आज पूरे प्रदेश में शासन तथा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाकर सभी 75 जिलों में भेजा गया था। इसके अलावा हर जिले में जिलाधिकारियों द्वारा भी अपने जिले में टीम बनाकर विद्यालयों का निरीक्षण कराया गया। (एजेंसी)