युविका के पति प्रिंस नरूला ने जातिसूचक टिप्पणी के लिए मांगी माफी, साथ ही हेटर्स को दिया करारा जवाब

    मुंबई: हाल ही में एक्ट्रेस युविका चौधरी (Yuvika Chaudhary) द्वारा जाने-अनजाने में की गई जातिसूचक टिप्पणी (Casteist Slur) को लेकर काफी बवाल देखने को मिला रहा हैं। युविका को लेकर बवाल अब इतना बढ़ चूका है कि लोग अब एक्ट्रेस की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। मामला बढ़ता देख एक्ट्रेस ने तुरंत माफी मांग ली थी। अब एक्ट्रेस के पति और एक्टर प्रिंस नरूला (Prince Narula) ने भी इस मामले पर माफी मांगी है। 

    प्रिंस ने अपने इंस्टा स्टोरी पर एक वीडियो शेयर करके माफी मांगी है। एक्टर ने कहा है कि ‘आप सभी को हैलो, ये वीडियो उन लोगों से माफी मांगने के लिए हैं जिन लोगों को उस शब्द से हर्ट हुआ है.जो शब्द कर युवी में बोला. मैं आपको सच बोलना चाहूंगा कि ये कुछ भी जानबूझकर नहीं किया गया था हमको इसका मतलब पता भी नहीं था। क्योंकि मैं भी वहां पर था अगर युवी की गलती है तो उतनी गलती मेरी भी है।’

    एक्टर ने आगे कहा है कि ‘हम दोनों को उसका मतलब पता नहीं था तो हम दोनों आपकी माफी के हकदार हैं। तो हम आपसे माफी मांगते हैं अगर किसी को भी हर्ट किया हो। हम वो लोग हैं जो कास्ट पर विश्वास करते हैं, मैं हेटर्स को के बात कहना चाहूंगा जिनको एक मौका चाहिए होता है कि कुछ ऐसा इनके मुंह से निकले ताकि वो ट्रोल कर पाएं।आप अपने घरवालों को भी इस जगह प्लीज रखकर सोचा करें। हमने जानबूझकर नहीं किया ये सब अगर हमको पता होता तो हम वीडियो एडिट कर देते डालते ही नहीं या मैं युवी को वहीं रोक देता.ये बस एक मिस अंडरस्टैंडिंग है।’

    युविका ने सोशल मीडिया पर अपना एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें प्रिंस नरूला अपना हेयरकट करवा रहे हैं और युविका वीडियो बना रही हैं। वीडियो बनाते हुए युविका कहती हैं कि ‘जब भी मैं व्लोग बनाती हूं तो मैं **** की तरह आकर खड़ी हो जाती हूं। मुझे इतना टाइम मिलता ही नहीं है कि अपने आप को ढंग से निखार सकूं। मैं बहुत बेकार लग रही हूं और प्रिंस मुझे तैयार होने का समय नहीं देता है।’

    ट्विटर यूजर्स का आरोप है कि युविका ने अपने हालिया यूट्यूब वीडियो में प्रिंस नरूला से बातचीत के दौरान जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया। वीडियो में देखा गया कि प्रिंस बैठकर अपने बाल कटवा रहे थे जब युविका ने उनके लिए ऐसे शब्द का इस्तेमाल किया जिसके कारण लोग भड़क उठे हैं और उनके खिलाफ SC/ST एक्ट की धाराओं के तहत कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।