Arun Govil, once came to do business in Mumbai, Ramayan found by the will of God

मुंबई. रामायण यूँ तो हम सबने देखी है. कुछ ने बचपन में देखी होगी और कुछ या अधिकाँश लॉक डाउन के इस समय पर भी इसका रस्वादन कर रहे हैं. इस धारावाहिक का हर पात्र और हर अभिनेता ने समय कि वेदी पर अमिट छाप छोड़ रखी है. इनमे से सबसे ऊपर नाम आता है अभिनेता अरुण गोविल का जिन्हें दर्शक आज भी मर्यादा पुरषोत्तम राम की छवि में देखते हैं. पर क्या आपको पता है अरुण गोविल मुंबई अभिनेता बनने नहीं अपितु बिजनेस करने आये थे.  

दरअसल एक निजी चैनल के साथ हाल ही में हुए अपने इंटरव्यू में अरुण जी ने बताया कि वह मुंबई अभिनेता बनने नहीं पर हाँ बिजनेस करने के लिए आये थे. लेकिन शायद भगवान् कि इच्छा उनसे कुछ और ही करवाने कि थी. बकौल अरुण जी  का कहना था कि “हर इंसान को, खास तौर पर आदमी  को जीविका हेतु कुछ न कुछ तो करना ही होता है. अगर आप के पास  बाप-दादाओं के जमाने से विरासत में कुछ नहीं मिला है तो कुछ तो आपको करना ही होता है. तो मैं या तो नौकरी करता था  या बिजनेस करता करने वाला था.”

अरुण जी ने यह भी बताया कि वह पहले भी काम करते आये हैं और उन्होंने अपने समय में सिनेमा और टीवी दोनों में कार्य किया है. वे लोकप्रिय टीवी धारावाहिक विक्रम और बेताल का भी हिस्सा रह चुके हैं. पर कहानी में ट्विस्ट तब आया जब उन्हें रामायण में काम करने का मौका मिला और उसके बाद जैसे उनका पूरा जीवन रामायण की धुरी में केन्द्रित हो गया. अरुण जी का मानना है कि इस्वर ने उन्हें बहुत कुछ दिया जिसकी उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं कि थी और फिर कहावत भी तो है जब आपके साथ इश्वर हो तों आपके साथ सब अच्छा ही अच्छा होगा.