ashutosh-rana-birthday-special-how-he-get-role-in-film-sangharsh-villain-lajja-shankar-pandey

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर एक्टर आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) आज अपना 53 वां जन्मदिन मना रहे हैं।

मुंबई. हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर एक्टर आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) आज अपना 53 वां जन्मदिन मना रहे हैं। आशुतोष राणा (Ashutosh Rana)ने बॉलीवुड की कई फ़िल्मो में विलेन का किरदार निभाया है। उन्होंने अपनी दमदार एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीत लिया है। आशुतोष राणा(Ashutosh Rana) एक्टर के अलावा निर्माता, लेखक भी हैं। तो चलिए आज जानते है बॉलीवुड के खलनायक आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) की ज़िंदगी के बारे में…

आशुतोष राणा (Ashutosh Rana)का जन्म 10 नवंबर, 1967 को नरसिंहपुर (मध्यप्रदेश) में हुआ था। आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) ने मध्यप्रदेश से ही अपनी शुरुआती पढ़ाई पूरी की। बता दें कि आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) कॉलेज के दिनों में रामलीला में रावण का किरदार निभाया करते थे। आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) ने साल 1995 से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की। वह टीवी शो ‘स्वाभिमान’ में त्यागी के रोल में नज़र आये थे। इसके बाद वह साल 1998 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘दुश्मन’ में दिखाई दिए थे। इस फिल्म से उन्हें नयी पहचान मिली। इस फिल्म के बाद आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) ने बॉलीवुड में कई खलनायक के किरदार निभाए हैं। आज भी आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) का नाम सुनते ही सबसे पहले आखों के सामने संघर्ष फिल्म का ‘लज्जा शंकर पांडे’ सामने आता हैं। साल 1999 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘संघर्ष’ अक्षय कुमार और प्रीति ज़िंटा मुख्य किरदार में नज़र आये थे। इस फिल्म में आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) ने एक ऐसे किन्नर का किरदार निभाया किया था, जो बच्चों की बलि देकर अमरत्व को प्राप्त करना चाहता है। इस फिल्म में आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) ने किन्नर का रोल काफी बेहतरीन तरीके से निभाया था। ‘लज्जा शंकर पांडे’ के किरदार से आशुतोष राणा कही पॉपुलर हो गए। हालांकि, यह किरदार पाने के लिए आशुतोष राणा काफी मेहनत करनी पड़ी थी।

दरअसल, उन दिनों आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) हैदराबाद में अक्षय कुमार फिल्म ‘जानवर’ के लिए शूटिंग कर रहे थे। तभी एक दिन आशुतोष राणा को महेश भट्ट का फ़ोन आया। महेश भट्ट ने आशुतोष से कहा कि ‘मैं एक फिल्म बना रहा हूं ‘संघर्ष’। उसमें एक किरदार है विलेन का। उससे बड़ा आज तक विलेन नहीं हुआ। लेकिन ये रोल मैं तुम्हें नहीं दूंगा। मैं किसी दूसरे एक्टर को दूंगा।’

महेश भट्ट की बातें सुनकर आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) फ़ौरन मुंबई के लिए रवाना हो गए। इसके बाद आशुतोष राणा, महेश भट्ट से मिलने चेम्बूर पहुंच गए, जहां महेश भट्ट एक फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। राणा ने जाते ही महेश भट्ट से कहा कि, ‘या तो आप मुझसे ये कह दीजिए कि मैं बुरा एक्टर हूं, या फिर आप जिस भी एक्टर को ये रोल देना चाहते हैं उसका और मेरा ऑडिशन ले लीजिए। अगर मैं ऑडिशन में फेल हो जाता हूं तब आप मुझसे कहिए कि मैं तुम्हें इस रोल के लिए खारिज करता हूं। राणा की ये बात सुनकर महेश भट्ट हंसने लगे।

महेश भट्ट ने आशुतोष (Ashutosh Rana) से कहा कि, दरअसल मैं तुमसे बहुत दिनों से मिला नहीं था। मुझे तुमसे मिलने की इच्छा हो रही थी। इसलिए मैंने तुमसे फोन पर वो बात कही। भट्ट के दिमाग में पहले से इस रोल के राणा फिट हो चुके थे। वो जानते थे कि उनसे बेहतर इस किरदार को कोई और नहीं निभा सकता।फिल्म ‘संघर्ष’रिलीज़ होने के बाद आशुतोष राणा की काफी तारीफ की गई। इस फिल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर का बेस्ट नेगेटिव परफॉर्मेंस और जी सिने बेस्ट परफॉर्मेंस इन नेगेटिव रोल का अवॉर्ड दिया गया। आशुतोष ने अब तक हिंदी ही नहीं तमिल, तेलुगू, मराठी और कन्नड़ फिल्मों में भी काम किया है।

आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) की पर्सनल लाइफ की बात करे तो, बॉलीवुड के इस खलनायक ने एक्ट्रेस रेणुका शहाणे से शादी की हैं।  हालांकि, रेणुका से शादी करना आसान नहीं था। दरअसल, रेणुका शहाणे तलाक़शुदा थी। इसलिए वह दूसरी शादी करने के लिए तैयार नहीं थी।लेकिन, आशुतोष राणा ने हार नहीं मानी और आखिर में रेणुका को अपना जीवन साथी बना ही लिया। इन दिनों की लव स्टोरी भी काफी दिलचस्प हैं।

आशुतोष राणा (Ashutosh Rana) और रेणुका शहाणे की मुलाकात हंसल मेहता की फिल्म की शूटिंग के दौरान हुई थी। यह फिल्म तो बन नहीं पाई लेकिन, यह दोनों करीब आ गए। आशुतोष राणा को रेणुका से बात करने के लिए भी काफी पापड़ बेलने पड़े थे। दरअसल, आशुतोष ने एक कॉमन फ्रेंड से रेणुका का नंबर मिला। मगर रेणुका को फ़ोन करने की भी शर्तें थीं। रेणुका किसी भी अंजान नंबर की कॉल नहीं उठाती थी। वहीं, वह रात 10 बहे के बाद फ़ोन नहीं उठाती थी। इसलिए आशुतोष ने रेणुका को एक मैसेज किया,जिसक रिप्लाई भी आया।

करीब तीन महीने तक दोनों ने फोन पर ही बातें कीं। इसके बाद आशुतोष राणा ने कविता लिखकर रेणुका से अपने प्यार का इज़हार किया। रेणुका को आशुतोष (Ashutosh Rana) की लिखी हुई कविता बेहद पसंद आई। रेणुका को भी आशुतोष से प्यार हो गया। इसके बाद साल 2011 में दोनों ने शादी कर ली। इनके दो बेटे हैं-शौर्यमान और सत्येन्द्र।