द्वापर युग में दुश्मन कौरव, कलयुग में कोरोना : पुनीत इस्सर

मुंबई. कोरोनावायरस के कारण देश में 21 दिन का लॉकडाउन लागू किया गया है। इस लॉकडाउन के कारण लोगो को अपने हे घर में बंद रहना पड़ रहा है। लोगो को मनोरंजन करने के लिए दूरदर्शन ने रामायण और महाभारत जैसे शो

मुंबई. कोरोनावायरस के कारण देश में 21 दिन का लॉकडाउन लागू किया गया है। इस लॉकडाउन के कारण लोगो को अपने हे घर में बंद रहना पड़ रहा है। लोगो को मनोरंजन करने के लिए दूरदर्शन ने रामायण और महाभारत जैसे शो री-टेलीकास्ट करने का फैसला लिया है। इसी बीच महाभारत में दुर्योधन का किरदार निभाने वाले कलाकार पुनीत इस्सर ने कोरोना वायरस की तुलना कौरवों से की है।

यह भी पढ़े :कोरोना से लड़ने के लिए बॉलीवुड के कौनसे सेलेब्स ने किए कितने रूपये दान, देखे पूरी लिस्ट

पुनीत ने कोरोनावायरस के बारे में कहते हुए कहा, आज से लगभग 5000 साल पहले द्वापर युग में महाभारत की लड़ाई लड़ी गई थी। ‘उस समय पांडवों ने भगवान श्री कृष्णा की मदद से कौरवों को हराया था। अब बदलते युग के साथ दुश्मन की शक्ल बदल चुकी है। कलयुग में दुश्मन कोरोना है। पूरी दुनिया इस वायरस से जंग लड़ रही है। हम सभी को घर में रहकर इस वायरस का सामना करना है।

यह भी पढ़े :पत्नी को लेकर अस्पताल पहुंचे अक्षय कुमार, जानें क्या है वजह

लॉकडाउन में रामायण और महाभारत का पुनः प्रसारित किया जा रहा है। इस बात से पुनीत काफी खुश है। उन्होंने कहा, ‘यह बहुत बड़ी बात है कि इतने साल बाद भी इस शो कई लोग चाहते है। उस समय में जब टीवी पर रामायण और महाभारत प्रसारित होता था तब, सारे लोग घर में बैठ कर शो देखते थे। आज भी कुछ वैसा ही माहौल है।

यह भी पढ़े :TV पर जल्द होगी शक्तिमान की वापसी!

आज की नयी पीढ़ी के बारे में बात करते हुए पुनीत कहते है, इस नयी पीढ़ी को रामायण और महाभारत से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। वह कहते हैं, ‘मुझे भरोसा है कि ‘रामायण’ लोगों को सिखाएगी कि क्या करना है, और ‘महाभारत’ बताएगा कि क्या नहीं करना है?। इन दोनों कार्यक्रमों के हर संवाद का एक मतलब होता है। जो हमें एक नयी सीख देता है।