govinda-on-nepotism-there-are-four-or-five-people-who-dictate-the-whole-business

    मुंबई: बॉलीवुड एक्टर सनी देओल (Sunny Deol) और अमीशा पटेल (Ameesha Patel) स्टारर फिल्म ‘गदर – एक प्रेम कथा’ (Gadar – Ek Prem Katha) को रिलीज हुए आज 20 साल पूरे हो गए हैं। अनिल शर्मा के निर्देशन में बनी ये फिल्म 15 जून साल 2001 को रिलीज हुई थी। फिल्म में दिवंगत एक्टर अमरीश पुरी (Amrish Puri) बतौर विलेन नजर आए थे। गदर ने बॉक्स ऑफ़िस पर कामयाबी का ऐसा इतिहास रचा था, जिसकी मिसाल आज भी दी जाती है। इसकी कहानी, संवाद, संगीत, हैरतअंगेज एक्शन… आज भी फैंस के दिलो-जेहन में जिंदा है। सनी देओल की मासूमियत और गुस्से ने सच में गदर मचा दिया था। बहुत से लोगों का मानना है कि सनी देओल (Sunny Deol) से पहले गोविंदा (Govinda) को इस फिल्म में साइन किया गया था। हालांकि सच ये है कि ऐसा नहीं था। निर्देशक अनिल शर्मा ने इस बारे में खुलकर बातचीत की। 

    बॉलीवुड हंगामा के साथ बातचीत में गदर के निर्देशक अनिल शर्मा ने बताया, ‘गोविंदा को ‘गदर – एक प्रेम कथा’ के लिए कभी भी साइन नहीं किया गया था।’ उन्होंने बताया कि गोविंदा को उन्होंने गदर की कहानी सुनाई थी लेकिन उन्हें फाइनल नहीं किया गया था। इसी तरह फीमेल लीड रोल के लिए उन्होंने काजोल और अन्य तमाम एक्ट्रेसेज से संपर्क किया था। अनिल शर्मा ने बताया, ‘मैं उस वक्त महाराजा (1988) का निर्देशन कर रहा था. ये वो वक्त था जब मैंने गोविंदा को गदर की कहानी सुनाई थी। तो ऐसा नहीं है कि मैंने उनको कास्ट किया था। बल्कि वो तो ‘गदर – एक प्रेम कथा’ की कहानी सुनकर डर गए थे।’

    अनिल ने आगे बताया, ‘वो बहुत आश्चर्य में थे कि कोई इस स्तर पर जाकर फिल्म कैसे बना सकता है। ये तब की बात है जब पाकिस्तान को भारत में रीक्रिएट करने का कोई तरीका नहीं था। किसी ने भी फिल्म के बड़े हिस्से को लेकर ऐसी कोशिशें नहीं की थी। तो इस तरह से सनी देओल हमेशा ही हमारी पहली चॉइस थे।’ मालूम हो कि सनी देओल ने फिल्म में तारा सिंह का किरदार निभाया था। जहां तक फिल्म में अमीशा पटेल को कास्ट किए जाने की बात है तो मेकर्स ने पहले कई अलग-अलग एक्ट्रेसेज को संपर्क किया था। हालांकि जब कहीं भी बात नहीं बनी तो आखिरकार अमीशा पटेल इस रोल के लिए राजी हो गईं।