hindi-writer-threatens-legal-action-against-mirzapur-2-claims-makers-misrepresented-his-novel

उन्होंने अपने उपन्यास ‘‘धब्बा'' को ‘‘बिल्कुल अश्लील'' तरीके से दिखाने के लिए यह चेतावनी दी है।

नयी दिल्ली. हिंदी अपराध उपन्यास लेखक सुरेंद्र मोहन पाठक ने अमेजन प्राइम वीडियो श्रृंखला ‘‘मिर्जापुर 2”(Mirzapur 2) के निर्माताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। उन्होंने अपने उपन्यास ‘‘धब्बा” को ‘‘बिल्कुल अश्लील” तरीके से दिखाने के लिए यह चेतावनी दी है।

लेखक ने 27 अक्टूबर को जारी पत्र में आरोप लगाया कि सीजन टू के तीसरे एपिसोड में अभिनेता कुलभूषण खरबंदा (श्रृंखला में सत्यानंद त्रिपाठी की भूमिका करने वाले) पाठक का उपन्यास ‘‘धब्बा” पढ़ रहे हैं, लेकिन वॉयस ओवर का उपन्यास में लिखी बातों से कोई लेना -देना नहीं है।

पाठक (81) ने ट्विटर पर साझा किए गए पत्र में दावा किया, ‘‘श्रृंखला में चरित्र को ‘धब्बा’ पढ़ते हुए जो दिखाया गया उसका मूल टेक्सट से कोई लेना-देना नहीं है।” उन्होंने लिखा, ‘‘इसके विपरीत जो पढ़ा जा रहा है वह काफी अश्लील है, जबकि लेखक ऐसा लिखने के बारे में सोच भी नहीं सकता। लेकिन इस प्रक्रिया में दिखाया गया है कि इसे मेरे उपन्यास ‘धब्बा’ से पढ़ा जा रहा है जो गलत चित्रण है।”

पाठक ने आरोप लगाए कि ऐसा गलत चित्रण मेरे पांच दशक से अधिक की छवि को ‘‘खराब करने का प्रयास” है। उन्होंने कहा कि लेखकों ने उन्हें फोन कर वादा किया है कि शो से वॉयस ओवर को हटा दिया जाएगा। इस बारे में टिप्पणी के लिए एक्सेल इंटरटेनमेंट के निर्माताओं से संपर्क नहीं हो सका।