mallika-sherawat-says-i-lost-20-30-movies-because-i-didnt-give-in-to-things

    मुंबई: मल्लिका शेरावत (Mallika Sherawat) फिल्मों में अपनी बोल्ड इमेज के लिए जानी जाती हैं। फिल्मों में बोल्ड सीन्स से लेकर असल जिंदगी में अपने बेबाक अंदाज के लिए मल्लिका मशहूर हैं। फिल्म ‘मर्डर’ (Murder) में उनके कुछ सीन्स काफी चर्चा में रहे थे। और इसके बाद भी उन्होंने कई फिल्मों में काम किया। ‘मर्डर’ फिल्म को रिलीज हुए 17 साल हो चुके हैं और अब मल्लिका ने फिल्म में दिए अपने बोल्ड सीन्स को लेकर कुछ बातें कही हैं। 

    एक्ट्रेस ने बताया है कि इस फिल्म में बोल्ड सीन्स करने के बाद लोगों ने उन्हें किस नजरिये से देखा। सिर्फ यही नहीं उन्होंने ये भी बताया कि आज बोल्ड सीन्स करने वाले कलाकारों को लेकर लोगों का क्या नजरिया है। उन्होंने हाल ही में अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया को इंटरव्यू दिया है। उन्होंने कहा, ‘जब मैंने साल 2004 मर्डर फिल्म में अभिनय किया। इस फिल्म में मेरे सीन को देखने के बाद लोगों ने मेरी लगभग नैतिक रूप से हत्या कर दी थी। मुझे एक गिरी हुई महिला के रूप में देखा गया था, लेकिन जो चीजें मैंने पहले की थीं वह अब के समय में बिल्कुल सामान्य हो गई हैं। लोगों का नजरिया बदल गया है। हमारा सिनेमा भी बदल गया है।’

    उन्होंने आगे कहा, लेकिन अब भी, जब मैं इसके बारे में सोचती हूं, तो 50 और 60 के दशक के सिनेमा को कोई भी नहीं हरा सकता है। उस समय महिलाओं के लिए हमारे पास अद्भुत भूमिकाएं थीं, लेकिन हमारी फिल्मों में उस सुंदरता की बड़े पैमाने पर कमी है। मैंने ऐसी भूमिका पाने के लिए वर्षों तक इंतजार किया है जिसका कोई मतलब हो।’

    एक्ट्रेस मल्लिका शेरावत ने साल 2003 में फिल्म ‘ख्वाहिश’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। पहली ही फिल्म में मल्लिका शेरावत ने काफी बोल्ड सीन्स दिए थे। इसके बाद उन्होंने फिल्म ‘मर्डर’ में एक्टर इमरान हाशमी के साथ कई बोल्ड सीन्स किए थे। मल्लिका का नाम बोल्ड एक्ट्रेसेस की लिस्ट में शुमार हो गया था और उन्हें अक्सर इसी तरह के किरदार ऑफर किए जाते थे, जिस पर अब एक्ट्रेस ने अपनी बात रखी है। वहीं मल्लिका 

    ‘प्यार के साइड इफेक्ट्स’, ‘आप का सुरूर’, ‘वेलकम’ और ‘डबल धमाल’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी हैं. 2019 में मल्लिका ने ऑल्ट बालाजी की वेब सीरीज ‘बू सबकी फटेगी’ से डिजिटल डेब्यू किया. इस सीरीज में वह तुषार कपूर के साथ दिखाई दी थी।