गोविंदा और नीलम 20 साल बाद स्टेज पर साथ आए,  साथ ही खोलेंगे एक दूसरे के कई राज

    मुंबई: डांसिंग रिएलिटी शो ‘सुपर डांसर चैप्टर 4’ (Super Dancer Chapter 4) में लगभग हर हफ्ते कोई न कोई ख़ास मेहमान आता है जो कंटेस्टेंट्स की हौसलाफजाई करता है और अपनी लाइफ से जुड़े कई अनुसने किस्से कहानियां सबके साथ शेयर करता है। अब 20 सालों के बाद गोविंदा अपनी पहली फिल्म की और उनकी सबसे पसंदीदा अभिनेत्री नीलम कोठारी सोनी (Neelam Kothari Soni) के साथ स्क्रीन शेयर करने वाले हैं। नहीं, नहीं, दोनों किसी फिल्म में नहीं बल्कि सुपर डांसर चैप्टर 4 के मंच पर सालों बाद साथ नजर आएंगे। बॉलीवुड में 80-90 के दशक में नीलम कोठारी और गोविंदा की जोड़ी काफी लोकप्रिय थी। दोनों ने एक साथ कई फिल्मों में भी काम किया। इनकी जोड़ी इतनी ज्यादा फेमस थी दर्शक इन्हें एक साथ देखने के लिए काफी एक्साइटेड हो जाया करते थे। 

    शो की एक छोटी सी झलक नीलम के पति और अभिनेता समीर सोनी ने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर की है जिसमें उनकी पत्नी गोविंदा के साथ ठुमके लगाती दिख रही हैं। वीडियो में गोविंदा और नीलम की ग्रैंड एंट्री होती दिख रही है इसके बाद कुछ कंटेस्टेंट सलमान और नीलम के गानों पर उन्हें ट्रिब्यूट देते दिख रहे हैं।

    नीलम के पति समीर सोनी (Samir Soni) ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर सुपर डांसर के आने वाले एपिसोड की एक क्लिप पोस्ट की है. इस पोस्ट के साथ उन्होंने लिखा- “20 साल का इंतजार आखिरकार खत्म हो गया है.” इस पोस्ट के नीचे उनकी पत्नी नीलम ने मुस्कुराते हुए इमोजी के साथ कमेंट किया

     
     
     
     
     
    View this post on Instagram
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     

    A post shared by Samir Soni (@samirsoni123)

    आपको बता दें गोविंदा और नीलम 90 के दशक के फेमस स्टार रहे हैं। हालांकि अब दोनों बड़े पर्दे से थोड़ा दूर हैं। एक वक्त था जब गोविंद ने खुलकर इस बात का इज़हार किया था कि वो नीलम को पसंद करते हैं, लेकिन ये केवल एक तरफा लव स्टोरी थी। नीलम की तरफ से कभी कोई ऐसी बात सामने नहीं आई। दोनों कई फिल्मों में साथ नज़र आ चुके हैं। गोविंदा और नीलम ने 1986 की फिल्म इलज़ाम (Iljam) में अपने शानदार अंदाज़ से दर्शकों के दिलों पर गहरी छाप छोड़ी थी। असल जिंदगी में गोविंदा और नीलम बिल्कुल अलग थे. जहां नीलम फॉरेन से आईं हुई एक्ट्रेस थीं, तो गोविंदा देसी मुंडे थे. लेकिन फिर 80-90 के दशक में ये दोनों सुपरहिट ऑन-स्क्रीन जोड़ी बन गए. ‘लव 86’ (1986), ‘खुदगर्ज’ (1987), ‘सिंदूर’ (1987), ‘हत्या’ (1988), ‘घराना’ (1989), ‘दोस्त गरीबों का’ (1989), ‘दो कैदी’ (1989), ‘फर्ज की जंग’ (1989), ‘बिल्लू बादशाह’ (1989), ‘ताकतवर’ (1989), ‘जोरदार’ (1996) यह उनकी कुछ सुपरहिट फिल्में थीं।