Review : कमजोर कहानी के वजह से दर्शकों को पसंद नहीं आई फिल्म ”पागलपंती”

कलाकार : अनिल कपूर,अरशद वारसी,जॉन अब्राहम,पुलकित सम्राट,कृति खरबंदा,इलियाना डीक्रूज,उर्वशी रौतेला निर्देशक : अनीस बाजमी मुंबई, फिल्म डायरेक्टर अनीस बज्मी की फिल्म 'पागलपंती' सिनेमाघरों में आ चुकी

कलाकार : अनिल कपूर,अरशद वारसी,जॉन अब्राहम,पुलकित सम्राट,कृति खरबंदा,इलियाना डीक्रूज,उर्वशी रौतेला
निर्देशक : अनीस बाजमी

मुंबई, फिल्म डायरेक्टर अनीस बज्मी की फिल्म ‘पागलपंती’ सिनेमाघरों में आ चुकी है. इस फिल्म में आधा दर्जन स्टार है फिर भी पागलपंती दर्शकों पर खुश नहीं कर पायी है.  पागलपंती फिल्म में अनिस बज्मी ने एक साथ एक्शन सीन्स, कॉमेडी, खूबसूरत लोकेशन्स, शानदार डायलॉग सबकुछ दिखाने की कोशिश की है, लेकिन कुछ खास कर पाने में कामयाब नहीं हो पाए हैं. फिल्म में अनिल कपूर, अरशद वारसी, पुलकित सम्राट, सौरभ शुक्ला, जॉन अब्राहम, इलियाना डिक्रूज, कृति खरबंदा, उर्वशी रौतेला जैसे स्टार शामिल हैं.  सोशल मीडिया और फिल्म क्रिटिक्स और फैंस ने इस फिल्म पर मिली जुली प्रतिक्रिया दे रहे हैं.  किसी ने इस फिल्म को सुपर कॉमेडी करारा दिया तो किसी ने फिल्म के प्रति अपनी निराशा जाहिर की.  

फिल्म की कहानी गैंगस्टर राजा (सौरभ शुक्ला) और वाईफाई भाई (अनिल कपूर) से शुरू होती है. इस दोनों को अपने धंधे में बड़ा नुकसान होता है.इसी नुकसान की भरपाई करने के लिए एक आउट- ऑफ-लक युवा राज किशोर (जॉन अब्राहम) और उसके दोस्त जंकी (अरशद वारसी) और चंदू (पुलकित सम्राट) को हायर करते हैं.  ये तीनों ही अपनी बदकिस्मती के कारण लगातार मुसीबतों में घिरते चले जाते हैं और यहीं से शुरू होता है पागलपंती का सफर. फिल्म की स्टारकास्ट काफी मजबूत है और पूरी फिल्म भारी-भरकम एक्शन से भरपूर है लेकिन ये फिल्म आपको हंसाने के साथ ही काफी हद तक बोर भी करती है. 

रिव्यूः फिल्म के जॉन अब्राहम का कैरेक्टर राज ये बोलता दिखाई देता है कि जरूरी नहीं कि हर चीज का मतलब हो.  लगत है ये डायलॉग फिल्म के लिए एकदम सही है. क्योंकि असल में फिल्म में पागलपंती ही होती दिखाई देगी. शुरुआत के पहले ही सीन में एक्शन और मजेदार डायलॉग सुनाई देंगे जो ‘मजेदार’ शब्द से बेहद दूर हैं.  अनिल कपूर ने फिल्म में एक बार फिर गैंगस्टर की भूमिका निभाई है जो बोलने में काफी तेज होता है, वहीं अरशद वारसी काफी मजाकिया अंदाज में दिखाई दे रहे हैं.  जॉन अब्राहम और पुल्कित सम्राट काफी चार्मिंग लड़कों के रूप में नजर आए हैं.  फिल्म में मौजूद तीनों एक्ट्रेस को सुंदर दिखाया गया है लेकिन सभी काफी अजीब डायलॉग बोलती नजर आईं.  इस सब से अलग सौरभ शुक्ला को काफी डरावना दिखाने की कोशिश की गई है, लेकिन उनके डायलॉग वाकई में काफी मजेदार हैं.  फिल्म में एक कैरेक्टर का नाम नीरज मोदी (इनामुलहक) है जो कि बिजनेसमैन नीरव मोदी पर रखा गया है.  फिल्म में ये कैरेक्टर गुजराती बोलता नजर आता है जो कि काफी बेकार है.  

निर्देशक अनीस बज्मी और सह-लेखकों ने एक साथ सबकुछ दिखाने की कोशिश की है जिसमें उन्होंने ऑडियंस को सिर्फ कंफ्यूज किया है.  एक के पीछे एक दौड़ती कार, अफ्रीकन शेर, एक्शन सीन, सभी को काफी सुंदर तरीके से शूट किया गया है.  फिल्म की कहानी की तरह म्यूजिक भी खास नहीं है.लगता है कि कुछ गाने सिर्फ फिल्म को लंबा करने के लिए डाले गए हैं.  

अवधि : 2 घंटा 13 मिनट
रेटिंग : पांच(5) में से दो(2) स्टार