कंगना रनौत पासपोर्ट केस में कोर्ट ने लगाई एक्ट्रेस को फटकार, अब अगली डेट पर होगी सुनवाई

    मुंबई: बॉलीवुड अदाकारा कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को अपने बेबाक अंदाज के लिए जाना जाता है। कंगना हमेशा अपने किसी फिल्म के वजह से या अपने सोशल मीडिया अकाउंट के पोस्ट की वजह से, या तो कभी अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में बनी रहती हैं। कंगना सामाजिक और राजनीतिक हर एक मुद्दे पर खुलकर अपनी राय रखती नजर आती हैं। अब कंगना रनौत के पासपोर्ट रिन्यू मामले (Kangana Passport Renew Case) में आज बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई होनी है। दरअसल पासपोर्ट अथॉरिटी ने हाल ही में कंगना के पासपोर्ट को रिन्यू करने से मना कर दिया था ,इस मामले में कंगना रनौत ने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया (Hearing On Bombay High Court) है। कंगना से कोर्ट से पासपोर्ट रिन्यूअल के लिए गुहार लगाई है।

    हाई कोर्ट (Bombay High Court) उनके पक्ष में सुनवाई करेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. कोर्ट की तरफ से कंगना रनौत को झटका लगा है. कंगना चाहती थीं कि इस मामले की सुनवाई जल्दी हो, लेकिन कोर्ट ने ऐसा करने से इनकार किया और उन्हें एक नई याचिका दाखिल करने का निर्देश दिया है. कोर्ट का कहना है कि कंगना रनौत की तरफ से जो अर्जेंट हियरिंग की याचिका दायर की गई थी, वह अस्पष्ट है। आज कंगना रनौत की इस याचिका पर कोर्ट में सुनवाई के दौरान पासपोर्ट अथॉरिटी के वकील रिजवान मर्चेंट ने अपनी दलील रखते हुए कहा कि पासपोर्ट ऑफिस से कोई ऑर्डर अटैच्ड नहीं किया गया. इस पर कोर्ट ने पूछा कि फिर आपत्ति कहां है? कोर्ट की इस बात पर अपना पक्ष रखते हुए कंगना के वकील रिजवान सिद्दिकी बोले कि जब हम फॉर्म भर रहे थे, तब पासपोर्ट ऑफिस ने हमें मौखिक रूप से इसके बारे में बताया था. उन्होंने कुछ भी लिखकर नहीं दिया था। 

    इसके बाद कोर्ट ने पूछा कि किस सक्षम प्राधिकारी ने आपको मना किया? आप पासपोर्ट अथॉरिटी को पक्ष बनाए बिना उनके खिलाफ निर्देश मांग रहे हैं? इसका जवाब देते हुए कंगना के वकील ने कहा कि पोसपोर्ट अथॉरिटी की तरफ से हमें कहा गया था कि अगर आप हाई कोर्ट से एनओसी ले लेंगे तो पासपोर्ट रिन्यू हो जाएगा। यह सुनकर कोर्ट ने कहा कि यह सब मौखिक हुआ, आवेदन में यह सब नहीं दिया गया है। पासपोर्ट रिन्यूअल का काम पासपोर्ट अथॉरिटी देखे न कि किसी पुलिस स्टेशन के पीएसआई।इस बीच सिद्दीकी ने कोर्ट से आग्रह किया कि इस मामले की सुनवाई की तारीख थोड़ा जल्दी की मिल जाए, क्योंकि कंगना को फिल्म धाकड़ की शूटिंग के लिए हंगरी जाना है और फिल्म की टीम पहले से ही वहां पहुंच चुकी है. इस आग्रह का जवाब देते हुए  कोर्ट ने कहा कि एक्ट्रेस के हिसाब से फिल्म की टीम शूटिंग शेड्यूल कर सकती है. अभिनेत्री का आवेदन अस्पष्ट है। अगर वह इतनी जागरूक हैं तो उन्हें पहले ही इसके लिए आवेदन देना चाहिए था। फिलहाल, कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई को 25 जून तक के लिए टाल दिया है। साथ ही रिस्पॉन्डेंट को एक नोटिस जारी किया है, ताकि वह भी अपनी जवाब 25 जून तक दाखिल कर सकें।

    सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने के आरोप में बांद्रा पुलिस स्टेशन ने कंगना और उनकी बहन रंगोली के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया था. कंगना ने पहले भी कोर्ट में याचिका देकर एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। कोर्ट में कंगना ने ये भी कहा था कि उनके किसी भी ट्वीट से कोई हिंसा नहीं भड़की है। और न ही उनकी वजह से कोई आपराधिक कृत्य हुआ है।