संजय दत्त को मिला UAE का गोल्डन वीजा, बेटी त्रिशला ने कमेंट कर जाहिर की खुशी

यूएई (UAE) का गोल्डन वीजा मिला है। साल 2019 में यूएई सरकार ने कानून में बदलाव करते हुए लंबी अवधि के निवास वीजा के लिए नई प्रणाली लागू किया था।

    Sanjay Dutt, the first Indian actor to get a UAE Golden Visa, daughter Trishala expressed her happiness by commenting: बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त (Sanjay Dutt) को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। संयुक्त अरब अमीरात (UAE) की ओर से अभिनेता को गोल्डन वीजा दिया गया है। संजय दत्त ने खुद कुछ तस्वीरें पोस्ट कर इसकी जानकारी फैंस को दी हैं। वैसे यह वीजा बिजनेस मैन और इन्वेस्टर्स को दिया जाता है लेकिन सल्लू बाबा पहले अभिनेता है जिन्हें ये वीजा दिया गया है। संयुक्त अरब अमीरात (UAE) का वीजा मिलने वाले संजय दत्त बॉलीवुड के पहले अभिनेता है। मालूम हो  कि सल्लू बाबा ज्यादा तर समय भारत के बजाय दुबई में रहते है। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हुए अभिनेता अक्सर दुबई से अपनी खूबसूरत तस्वीरें पोस्ट करते दिखाई देते हैं। बता दें कि हाल ही में संजय दत्त कैंसर से जंग जीतकर वापस लौटे हैं।

    संयुक्त अरब अमीरात से वीजा मिलने के बाद संजय दत्त (Sanjay Dutt) ने अपने सोशल मीडिया पर 2 तस्वीरें साझा की हैं। पहली पोस्ट तस्वीर में अभिनेता वीजा लेते दिखाई दे रहे है, वहीं दूसरी तस्वीर में संजय दत्त मेजर जनरल  मोहम्मद अल मारी के साथ खड़े नजर आ रहे हैं। सोशल मीडिया पर अभिनेता की यह तस्वीरें काफी वायरल हो रही हैं। इस तस्वीरों को साझा करते हुए संजय ने लिखा ‘मेजर जनरल मोहम्मद अल मारी की मौजूदगी मुझे यूएई का गोल्डन वीजा मिला। मैं यूएई का गोल्डन वीजा पाकर काफी सम्मानित महसूस कर रहा हूं। इस सम्मान के लिए मैं यूएई सरकार का बहुत-बहुत शुक्रिया करता हूं।‘ इन तस्वीरों पर फैंस के अलावा संजय दत्त की बेटी त्रिशला दत्त ने भी कमेंट कर खुशी जाहिर की है। 

     

     
     
     
     
     
    View this post on Instagram
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     

    A post shared by Sanjay Dutt (@duttsanjay)

    बता दें, यूएई (UAE) का गोल्डन वीजा मिला है। साल 2019 में यूएई सरकार ने कानून में बदलाव करते हुए लंबी अवधि के निवास वीजा के लिए नई प्रणाली लागू किया था। नियमों में बदलाव के बाद वैज्ञानिकों और प्रोफेशनल्स समेत खास लोगों के लिए यह वीजा जारी किया जाने लगा।