sunil-pandey-aka-vasudev-did-mob-work-after-coming-to-mumbai-to-become-actor

शो श्रीकृष्णा में भगवान कृष्णा के पिता वासुदेव की भूमिका सुनील पांडे ने निभाई थी। बता दे कि सुनील के लिए इस इंडस्ट्री में आना कड़ी मुश्किल भरा रहा है।

मुंबई. देश में कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन लागू हो गया है। ऐसे में दूरदर्शन ने लोगो के मनोरंजन के लिए एक बार फिर रामानंद सागर की रामायण और बी आर चोपड़ा की महाभारत दिखाना शुरू कर दिया।हालांकि यह दोनों ख़त्म हो चुके है।अब दूरदर्शन पर श्रीकृष्णा दिखाया जा रहा है। रामायण और महाभारत की तरह लोगो को श्रीकृष्णा भी बेहद पसंद आ रहा है।

सोशल मीडिया पर श्रीकृष्णा और इसके कलाकारों का काफी चर्चा हो रही है।रामायण और महाभारत के बाद दर्शक श्रीकृष्णा के कलाकारों के बारे में जानना चाहते है। आज हम आपको श्रीकृष्णा में वासुदेव के किरदार में नजर आ चुके एक्टर सुनील पांडे के बारे में बताने जा रहे है।

शो श्रीकृष्णा में भगवान कृष्णा के पिता वासुदेव की भूमिका सुनील पांडे ने निभाई थी। बता दे कि सुनील के लिए इस इंडस्ट्री में आना कड़ी मुश्किल भरा रहा है। सुनील बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री में से किसी को भी नही जानते थे। उन्होंने अपने एक्टिंग के दम पर इस इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाई।

सुनील पांडे ने खुद एक इंटरव्यू में अपनी जर्नी के बारे में बताया है। उन्होंने कहा, उनके एक्टिंग करने के जुनून को उनके पिता ने समझा। उनके पिता ने उनका हमेशा साथ दिया। उन्होंने आगे कहा, एक दिन मेरे पिता ने मुझे बोला की मुझे अपने सपने पुरे करने के लिए मुंबई जाना होगा। मैंने पिताजी की बात सुनकर मुंबई के लिए रुख किया। लेकिन, मुझे मुंबई आने के बाद काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

उन्होंने आगे बताया, मुंबई में अपना पेट भरने के लिए झाड़ू-पोछा का काम भी किया था। वही, कई बार उन्हें एक्टर्स के कपड़ों पर आयरन करने को भी कहा जाता था। इसके बाद काफी मेहनत करने के बाद वह धीरे-धीरे पृथ्वीराज थिएटर के नाटकों में काम करने लगे। उस दौरान उनकी मुलाकात गोविंद पूरी से हुई।

गोविंद पूरी के वजह से ही सुनील पांडे को राजश्री प्रोडक्शन में बनी फिल्म ‘नदिया के पार’ में काम करने का मौका मिला। इस फिल्म में सुनील पांडे एक्टर सचिन पिलगांवकर के मित्र दशरथ के किरदार में नजर आए थे। इस फिल्म के बाद सुनील पांडे को एक और फिल्म मिली थी। इस फिल्म का नाम था ‘अपना भी कोई होता’। इस फिल्म में सुनील पांडे मुख्य किरदार में नजर आने वाले थे। लेकिन, यह फिल्म रिलीज नही हो पाई।

वही, एक दुसरे इंटरव्यू में सुनील पांडे ने बताया की अरुण गोविल के कारण उन्हें रामानंद सागर के साथ काम करने का मौका मिला था। उन्होंने कहा, एक बार राजस्थानी फिल्म ‘बेटी राजस्थान की’ शूटिंग के दौरान मेरी मुलाकात रामायण के राम यानि एक्टर अरुण गोविल से हुई थी। अरुण गोविल के वजह से ही सुनील को दूरदर्शन का शो मसाल में काम मिला था। इसके बाद सुनील पांडे की जिंदगी को नयी दिशा मिल गयी। इसके बाद उन्होंने रामानंद सागर के ‘कृष्णा’ के अलावा ‘अलिफ लैला’ में भी काम किया है। इस दोनों शो में दर्शकों ने सुनील पांडे को बेहद पसंद किया है।