Photo: Graphic
Photo: Graphic

    मुंबई: अभिनेत्री सुरेखा सीकरी (Surekha Suri) का कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया है। वह 75 साल की थीं। उनके मैनेजर ने इसकी पुष्टि की है। सुरेखा लंबे समय से बीमार चल रही थीं। 2020 में सुरेखा, ब्रेन स्ट्रोक का शिकार हो गई थीं। एक्ट्रेस का निधन आज सुबह कार्डियक अरेस्ट की वजह से हुआ है। वह दूसरे ब्रेन स्ट्रोक की वजह से हुए कॉम्पलीकेशन्स से जूझ रही थीं। 

    अंग्रेजी वेबसाइट इंडियन एक्सप्रेस से से बातचीत में उनके मैनेजर ने कहा, ‘आज सुबह 75 साल की उम्र में सुरेखा सीकरी का कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया। दूसरे ब्रेन स्ट्रोक के बाद वह तमाम जटिलताओं से जूझ रही थीं। परिवारवाले और केयर टेकर उनकी देखभाल कर रहे थे। परिवार इस वक्त प्राइवेसी चाहता है।‘

    उन्होंने 1978 में एक पॉलिटिकल ड्रामा फिल्म ‘किस्सा कुर्सी का’ से अपने करियर की शुरुआत की थी। वो हिंदी के अलावा मलायालम फिल्म का हिस्सा भी रही हैं। इतना ही नहीं सुरेखा को सपोर्टिंग एक्ट्रेस के लिए 3 बार नेशनल अवॉर्ड मिल चुका है। एक्ट्रेस को शो ‘बालिका वधू’ में सुरेखा ने एक कड़क दादी सास का किरदार निभाया था जो अपने हाथों में घर की लगाम रखती है।

    आपको बता दें फिल्मों में भी उनके अभिनय को काफी पसंद किया गया। उनकी कुछ बेहतरीन फिल्मों में 1986 में आई ‘तमस’, 1991 में ‘नजर’, 1996 में ‘सरदारी बेगम’, 1999 में ‘सरफरोश’, साल 2004 में आई फिल्म ‘तुमसा नहीं देखा’ शामिल हैं। साल 2018 में रिलीज हुई कॉमेडी फिल्म ‘बधाई हो’ में उन्होंने आयुष्मान की दादी दुर्गा देवी कौशिक का किरदार निभाया था। इस रोल के लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता था।