मौत के बाद अधूरी रह गई सुशांत सिंह राजपूत की ये ख्वाहिश, प्रतीक बब्बर ने किया खुलासा

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की कुछ दिन में ही पहली बरसी आने वाली है।

    Sushant Singh Rajput’s last wish remains unfulfilled, Prateik Babbar revealed: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput)  की पहली डेथ एनिवर्सरी 14 जून को है। अभिनेता ने अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। ऐसे में साल भी कई कलाकरों के सुशांत को अलग-अलग तरीके से याद किया। मालूम हो कि सुशांत के को-स्टार प्रतीक बब्बर ने भी उन्हें याद कर उनकी आखिरी ख्वाहिश के बारे में बताया। बता दें, सुशांत और प्रतीक एक साथ फिल्म ‘छिछोरे’ में दिखाई दिए थे। सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी ख्वाहिश के बारे में बात करते हुए प्रतीक बब्बर ने कहा ‘सुशांत एक अच्छे इंसान होने के साथ-साथ एक मिलनसार व्यक्ति थे। उन्हें अपने सपनों की दुनिया में रहना पसंद था। Bombay Times से बातचीत में प्रतीक बब्बर ने बताया कि सुशांत का अपना एक अलग ‘औरा’ था, जो बॉलीवुड एक्टर्स के बीच असामान्य था।‘ 

    अभिनेता ने आगे कहा ‘हम दोनों अक्सर एक दूसरे से जिम में मिलते थे। जब फिल्म ‘छिछोरे’ में साथ काम करने का मौका मिला तो हम दोनों की दोस्ती हुई। ‘छिछोरे’ की शूटिंग से पहले सुशांत के साथ मैं सीन्स की तैयारी की थी। वह जभी मुझ से मिलते थे गर्मजोशी से मिला करते थे। उसे मजाक करना काफी पसंद था। लेकिन इस भी झुठलाया नहीं जा सकता कि कई बार वह कट कर रहना पसंद करते थे। उसे क्वांटम फिजिक्स, ग्रहों, स्टार्स और साइंस के बारे में बात करना काफी पसंद था।‘ 

     
     
     
     
     
    View this post on Instagram
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     

    A post shared by Sushant Singh Rajput (@sushantsinghrajput)

     

    प्रतीक बब्बर ने बताया कि मुझे याद है वह अंटार्कटिका जाना चाहता था। उसने मुझे कहा था कि ‘छिछोरे’ फिल्म की शूटिंग पूरी कर वह वो वहां जाएगा। उस दौरान मैंने उसकी बात सुनकर हैरान रह गया था क्योंकि ऐसा कौन सोच सकता है? वो हमेशा अपनी जिंदगी को एक नए नजरिए से देखने की कोशिश करता था। वो अलग ही इंसान था और उसकी प्राथमिकताएं अलग थीं।’