Javed Akhtar's defamation case: against Bollywood Actress Kangana Ranaut : court rejects plea for change of magistrate
File

    मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को आज  धेरी के मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश होना था। उन पर बॉलीवुड सिंगर जावेद अख्तर ने मानहानि का मामला दर्ज करवाया था। ऐसे में आज जावेद अख्तर पत्नी और उनकी पति  शबाना आजमी कोर्ट की  सुनवाई के लिए कोर्ट पहुंचे थे। लेकिन कंगना कोर्ट नहीं पहुंच पाई।

    ऐसे में कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी ने कोर्ट में दलील देते हुए कहा की एक्ट्रेस की तबियत ख़राब है। इस वजह से कंगना कोर्ट में पेश नहीं हो पाई। साथ ही कंगना के वकील ने कोर्ट से उन्हें पेशी में छुट्टी देने की भी अपील की। जिसके बाद कोर्ट ने अगली तारिक यानी 20 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश जारी किए हैं। साथ ही जज ने कहा अगर कंगना अगली तारीख को कोर्ट में हाजिर नहीं हो पाएगी तो उनके खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी कर दिया जाएगा। 

    साथ ही जब जावेद अख्तर के वकील ने कंगना पर आरोप लगाया कि कंगना कई नोटिस जारी किए जाने के बाद भी कंगना कोर्ट नहीं पहुंचीं वे सुनवाई जान बुच कर डिले करने की कोशिश कर रही हैं। इस पर कंगना के वकील ने कहा- ‘कंगना कोविड टेस्ट कराने गई है। अगर आज वह कोर्ट में आती और उनकी रिपोर्ट्स पोस्टिव आती तो क्या होता? क्योंकि कोविड की दोनों डोज लेने के बाद भी लोग पॉजिटिव पाए गए हैं।’

    आपको बता दें पिछले हफ्ते, मानहानि मामले को रद्द करने की कंगना की याचिका को बॉम्बे हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था। कोर्ट के जस्टिस रेवती मोहिते डेरे ने दोनों के वकीलों की दलील सुनने के बाद याचिका को रिजेक्ट कर दिया था।

    गौरतलब है कि कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी ने अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट में जावेद अख्तर के मानहानि केस को चुनौती दी थी। तभी जावेद अख्तर के वकील ने बताया था की मजिस्ट्रेट ने जावेद की शिकायत और कंगना के इंटरव्यू  देखने और सुनने के बाद मुंबई पुलिस को जज का आर्डर दिया था। जिसमें कंगना ने कथित तौर पर मानहानिकारक शब्द बोले है।

    बता दें जावेद अख्तर की शिकायत के अनुसार जून 2020 में एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड में मौजूद एक ‘गुट’ का जिक्र करते हुए कंगना रनौत ने जावेद अख्तर का नाम घसीटा था। जिसके बाद एक्टर ने अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट में कंगना के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी।