निर्देशक शूजित सिरकार ने कहा- ‘मेरी फिल्में मेरे जीवन का हिस्सा होती…’

    Director Shoojit Sircar said- ‘My films are a part of my life…’: फिल्म निर्माता शूजित सरकार ने मंगलवार को कहा कि उनके और उनकी फिल्मों के बीच हमेशा एक जुड़ाव रहा है, क्योंकि वह अक्सर अपनी फिल्मों की कहानियों को निजी तौर पर जीते हैं। ‘यहाँ’, ‘विक्की डोनर’, ‘पीकू’ और ‘अक्टूबर’ जैसी महत्वपूर्ण हिट फिल्मों के लिए मशहूर कोलकाता के फिल्म निर्माता सरकार ने कहा कि अक्सर उनकी फिल्मों के पल उनके अपने अनुभवों से प्रेरित होते हैं। सरकार ने कहा, ‘मैंने जो फिल्में बनाई हैं, वे किसी न किसी तरह मेरे साथ जुड़ी हुई हैं। ऐसा कभी नहीं हुआ कि कोई मेरे पास आया, मुझे एक स्क्रिप्ट दी और मैंने फिल्म बनाई। चाहे वह ‘पीकू’, ‘अक्टूबर’ या ‘यहाँ’ हो, मैं हमेशा किसी न किसी तरह इन फिल्मों की कहानियों से जुड़ा रहा। कहीं न कहीं यह मेरे जीवन का हिस्सा था।’’

    वरुण धवन और बनिता संधू की जोड़ी वाली फिल्म ‘‘अक्टूबर’’ का उदाहरण देते हुए, निर्देशक ने कहा कि उन्होंने अपने वास्तविक जीवन के अनुभव से अपनी 2018 की इस फिल्म के कुछ प्रमुख दृश्यों को फिल्माया।

    उन्होंने कहा, ‘‘अक्टूबर’ फिल्म का भी बहुत सारा भाग मेरे जीवन का हिस्सा है, क्योंकि मेरी मां कोमा में थी और मैं उनके साथ तीन महीने तक आईसीयू में था। इसलिए अस्पताल में जो भी सीक्वेंस फिल्माए गए हैं, वे मेरे व्यक्तिगत अनुभवों से प्रेरित हैं।’’ सरकार 2021 में चल रहे भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) में मास्टरक्लास ‘क्रिएटिंग सिनेमैटिक सक्सेस एंड स्टोरीटेलिंग ऑफ सरदार उधम’ में बोल रहे थे। फिल्म निर्माता ने कहा कि वह सत्यजीत रे, ऋत्विक घटक और मृणाल सेन जैसी हस्तियों के काम से प्रेरणा लेते हैं। उन्होंने यह भी खुलासा किया कि महान जापानी निर्देशक अकीरा कुरोसावा उनकी नवीनतम फिल्म “सरदार उधम” के लिए प्रेरणा का एक बड़ा स्रोत थे।

    सरकार का “सरदार उधम” स्वतंत्रता सेनानी सरदार उधम सिंह के जीवन पर आधारित है, जिन्होंने 1919 के जलियांवाला बाग हत्याकांड का बदला लेने के लिए 1940 में ब्रिटिश भारत में पंजाब के पूर्व लेफ्टिनेंट गवर्नर माइकल ओ’डायर की हत्या कर दी थी। फिल्म ने अक्टूबर में प्राइम वीडियो पर स्ट्रीमिंग शुरू की है। विक्की कौशल की शीर्ष भूमिका वाली इस फिल्म को आलोचकों और दर्शकों द्वारा क्रांतिकारी के अंतरंग चित्रण के लिए सराहा गया है।