मोहम्मद रफी के निधन के 6 महीने बाद परिवार वालों को लगा झटका, खुला ये राज

मोहम्मद रफी (Mohammed Rafi) की आज 97वीं जयंती है। उनका जन्म 24 दिसंबर 1924 को हुआ था। अपने जीवन में रफी साहब बेहद ही अनुशासित थे।

Happy Birthday Mohammed Rafi: हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के जाने-माने गायक मोहम्मद रफी (Mohammed Rafi) की आज 97वीं जयंती है। उनका जन्म 24 दिसंबर 1924 को हुआ था। अपने जीवन में रफी साहब बेहद ही अनुशासित थे। फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े होने के बावजूद वो पार्टियों नहीं जाते थे। मोहम्मद रफी ने अपने जीवन में कभी स्मोकिंग और ड्रिंकिंग नहीं की। मोहम्मद रफी अपने घर से रिकॉर्डिंग स्टूडियो और रिकॉर्डिंग स्टूडियो से घर जाते थे। उन्होंने अपना जीवन बेहद सादगी से जिया। उनकी दो शादियां हुई थी। उनकी पहली शादी बशिरा से हुई थी इनका एक बेटा भी है। माता-पिता के निधन के बाद बशिरा लाहौर चली गई। 

गायक मोहम्मद रफी भारत में ही रहे और संगीत में अपना करियर बनाया। पत्नी बशिरा के लाहौर जाने के बाद मोहम्मद रफी (Mohammed Rafi) ने दूसरी शादी बिलकिस से की थी। विजय पुलक्कल की पुस्तक ‘Remembering Mohmmad Rafi’ में इसका ज़िक्र किया गया है। मोहम्मद रफी दिल के बहुत अच्छे थे उन्हें चैरिटी करना काफी पसंद था। रफी साहब के निधन के बाद उनके घर वालों को ऐसी बात पता चली कि वो हैरान रह गए। मोहम्मद रफी के बेटे शाहिद रफी ने खुद इस बात का खुलासा एक इंटरव्यू में किया था। 

 
 
 
 
 
View this post on Instagram
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Mohammed Rafi (@mohammed.rafi.offcial)

 
 
 
 
 
View this post on Instagram
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Mohammed Rafi (@mohammed.rafi.offcial)

 

शाहिद रफी ने बताया, ‘एक दिन एक शख्स हमारे घर पहुंचा था। वो मोहम्मद रफी साहब से मिलने की गुज़ारिश कर रहा था। जब उस शख्स को हमने बताया कि रफी जी को  दुनिया छोड़े 6 महीने हो गए थे। वो शख्स अपनी जगह से उठकर खड़ा हो गया और कहने लगा कि इस लिए पैसे आना बंद हो गए। इस शख्स से बातचीत के बाद पता चला कि अब्बू  परिवार को बिना बताए चैरेटी कर रहे थे।’ शाहिद रफी ने कहा, ‘अबू हर महीने इस शख्स को पैसे भेजा करते थे इस बात की जानकारी उनके सेक्रेटरी यानी मेरे मामा को भी पता नहीं थी।’