साल 2020 में इन बयानों के कारण विवादों में फंसी रहीं कंगना रनौत

इस साल भी कंगना (Kangana Ranaut) के साथ कुछ ऐसा ही हुआ।

मुंबई. बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) हमेशा अपने बेबाक बयानों के चलते सुर्खियों में रहती हैं। वह अक्सर देश में चल रहे हर मुद्दों पर अपनी राय व्यक्त करती हैं। हालाँकि, उनका बेखौफ होकर बोलना कभी-कभी उनपर भारी पड़ जाता है। जिसके चलते वह विवादों में फंस जाती हैं। इस साल भी कंगना (Kangana Ranaut) के साथ कुछ ऐसा ही हुआ।

साल 2020 में कंगना (Kangana Ranaut) कई विवादों में फंसी हैं। जिसके चलते उन्हें कई बार आलोचना का सामना भी करना पड़ा। कंगना रनौत अक्सर किसी न किसी मुद्दों पर बयान देते रहती हैं। लेकिन, कुछ बयान हमेशा लोगों को याद रह जाते हैं। कंगना ने ऐसा ही एक बयान दिया था। जिसके बाद कंगना हर किसी के निशाने पर आ गईं। 

कंगना (Kangana Ranaut) ने महाराष्ट्र को लेकर एक बयान दिया था। जिसके बाद महाराष्ट्र की सरकार और कंगना के बीच जंग छिड़ गई थी। दरअसल, कंगना ने शिवसेना नेता संजय राउत पर हमला करते हुए मुंबई को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर कह दिया था।

kangna

कंगना (Kangana Ranaut) ने ट्वीट करते हुए कहा था कि ,”शिवसेना नेता संजय राउत ने मुझे खुली धमकी दी है और कहा है कि मैं मुंबई वापस ना आऊं। पहले मुंबई की सड़कों में आजादी के नारे लगे और अब खुली धमकी मिल रही है। ये मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की तरह क्यों लग रहा है?” कंगना के इस ट्वीट के बाद हर कोई कंगना पर हमला करने लगा। कंगना उस समय अपने होम टाउन हिमाचल प्रदेश में थीं। वहीं, यह बयान देने के बाद वह मुंबई लौट आईं। जब कंगना मुंबई आईं तब उन्हें वाई श्रेणी की  सुरक्षा दी गई थी।

kangna-bangla

इसके बाद कंगना  (Kangana Ranaut) को एक के बाद एक मुश्किलों का सामना करना पड़ा। कंगना  (Kangana Ranaut) के बांद्रा स्थित ऑफिस के कुछ हिस्सों को बीएमसी ने गिरा दिया। हालांकि, बॉम्‍बे हाई कोर्ट ने कंगना रनौत को बड़ी राहत देते हुए उनके मुंबई स्थित ‘मणिकर्णिका फिल्म्स’ ऑफिस में अवैध निर्माण तोड़ने पर रोक लगा दी। लेकिन तब तक BMC, कंगना के दफ्तर को तोड़ चुकी थी।बीएमसी के मुताबिक, कंगना का ऑफिस अनधिकृत निर्माण में आ रहा था। जिसके चलते उनके ऑफिस पर बुल्डोज़र चलाया गया। इसके बाद कंगना ने सोशल मीडिया के माध्यम से महाराष्ट्र सरकार के ख़िलाफ़ मुहिम शुरू कर दी। वह महाराष्ट्र सरकार से एक के बाद एक सवाल करती रहीं। 

kangna-shabana

कंगना  (Kangana Ranaut) अक्सर अपने ट्वीट के माध्यम से देश भक्ति की बातें करती रहती हैं। वह अक्सर अपनी विचार सोशल मीडिया के माध्यम से सबके सामने रखती हैं। उन्होंने एक्ट्रेस शबाना आजमी पर निशाना साधा था। कंगना  (Kangana Ranaut) ने कहा था कि, ‘शबाना आजमी जैसे लोग ही cultural exchange की बात करते हैं। ये वहीं लोग हैं जो भारत तेरे टुकड़े होंगे गैंग के साथ खड़े होते हैं। मुझे तो समझ नहीं आता कि उन्होंने कराची में एक इवेंट का आयोजन क्यों किया जबकि उरी हमले के बाद से पाकिस्तानी आर्टिस्ट को बैन कर दिया गया है। ये इंडस्ट्री देश द्रोहियों से भरी हुई है जो सिर्फ दुश्मन के हौसलों को बढ़ाती हैं। कंगना के इस बयान पर काफी विवाद हुआ था। फिर इस बात पर डिबेट छिड़ गई थी ये कौन फैसला करेगा कि- ये देशद्रोही है और ये देशभक्त।’

कंगना (Kangana Ranaut) ने बॉलीवुड इंडस्ट्री को लेकर भी काफी बयान दिए हैं। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद इंडस्ट्री में नेपोटिज़्म (Nepotism) को लेकर विवाद शुरू हो गया। इस विवाद में कंगना ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। कंगना नेपोटिज़्म के नाम पर  करण जौहर पर निशाना साधा। इसके अलावा कंगना (Kangana Ranaut) ने कई स्टार किड्स पर भी निशाना साधा।

kangna-sushant

सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर चल रहे विवादों के चलते एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में बवाल हो गया। वहीं, कंगना ने एक इंटरव्यू में तापसी पन्नू और स्वरा भास्कर को बी ग्रेड एक्ट्रेस बता दिया था। कंगना रनौत (Kangana Ranaut) का यह बयान सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।  इसके बाद तापसी-स्वरा और कंगना के बीच ट्वीटर वॉर शुरू हो गया। 

kangna-karan

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद ड्रग विवाद शुरू हुआ। इस विवाद में कई बड़े स्टार्स का नाम सामने आया। कई स्टार्स से एनसीबी ने पूछताछ भी की। उस समय कंगना ने ड्रग केस को लेकर बड़ा बयान दिया था। कंगना (Kangana Ranaut) ने कहा था कि इंडस्ट्री में मौजूद 99 प्रतिशत लोग ड्रग्स का सेवन करते हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि किसी भी कलाकार को फिल्म में साइन करने से पहले उनका ड्रग टेस्ट किया जाए। इसके बाद कंगना (Kangana Ranaut) इंडस्ट्री में काफी अकेली हो गयी। बॉलीवुड के कुछ लोग कंगना क्ले खिलाफ बयानबाज़ी करने लगा। कंगना भी उन लोगों को जवाब देने लगी। 

देश में पिछले 1 महीने से किसान आंदोलन कर रहे हैं। कंगना (Kangana Ranaut) ने किसान आंदोलन (Farmers Protest) पर भी अपनी राय व्यक्त की। लेकिन, हर बार की तरह इस बार भी कंगना का बयानबाज़ी करना कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगा। कंगना ने एक बुजुर्ग महिला को शाहीन बाग की ‘बिलकिस बानो’ बताते हुए ट्वीट किया था। इस ट्वीट के बाद काफी विवाद होने लगा। जिसके बाद कंगना ने वह ट्वीट डिलीट कर दिया। हालांकि, कंगना का यह ट्वीट करना कुछ पंजाबी सिंगर्स और स्टार्स को पसंद नहीं आया।

kangna-diljit

इसके बाद सोशल मीडिया पर कंगना (Kangana Ranaut) की काफी निंदा होने लगी। वहीं, किसान आंदोलन (Farmers Protest)  के बीच कंगना और दिलजीत दोसांझ (Diljit Dosanjh) के बीच ट्वीटर जंग शुरू हो गई। यह विवाद यही नहीं थमा। सोशल मीडिया पर एक तरफ कंगना और दिलजीत के बीच ‘ट्विटर वॉर’ शुरू हो गया तो, वहीं दूसरी ओर सिखों के धार्मिक संगठन की ओर से कंगना को लीगल नोटिस जारी किया गया।