राधिका मदान का छलका दर्द, बताया जब टीवी छोड़ रही थी तब उन्हें लोगों ने कही थी ये बात

    मुंबई: अभिनेत्री राधिका मदान (Radhika Madan) ने कहा कि अपने फिल्मी करियर की शुरुआत में विशाल भारद्वाज और वासन बाला जैसे निर्देशकों के साथ काम करने से उनकी नींव बहुत मजबूत हो गयी। लोकप्रिय धारावाहिक ‘‘मेरी आशिकी तुम से ही” से 2014 में टीवी से अपने करियर की शुरुआत करने वाली मदान ने भारद्वाज की फिल्म ‘‘पटाखा” और बाला की ‘‘मर्द को दर्द नहीं होता” फिल्म में काम किया। उनका मानना है कि पिछले कुछ वर्षों में वह एक बेहतर इंसान बनी हैं।

    मदान ने ‘पीटीआई-भाषा’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘मैं शुक्रगुजार हूं कि मुझे अपने पहले दो प्रोजेक्ट में उनके साथ काम करने का मौका मिला क्योंकि मेरी नींव बहुत मजबूत हो गयी। मैं फिल्मी उद्योग के हल्केपन, सतहीपन में नहीं बहकी। मैं समझ गयी कि शिल्प का क्या मतलब है, मेरे लिए यह कितना अहम है और मैं कैसे अपनी अंतिम सांस तक इसे थामे रखना चाहूंगी।”

    उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं टीवी छोड़ रही थी तो मुझे कहा गया कि टीवी पर प्रसिद्धि तेजी से आती है और उतनी ही तेजी से चली जाती है। मैंने अपने आप से पूछा कि मैं ऐसे चीज से क्यों जुड़ी रहूं जो इतनी अस्थायी है। जब मैंने टीवी छोड़ा तो मुझे पता नहीं चला कि प्रसिद्धि कब चली गयी। फिर किसी ने मुझे बताया कि ‘ओह तुम्हें हवाईअड्डे पर पहचाना नहीं जा रहा है।’ लेकिन मुझे ठीक लगा।”

    मदान अब ‘‘शिद्दत” फिल्म में दिखायी देंगी जिसमें उनके साथ डायना पेंटी, मोहित रैना और सन्नी कौशल जैसे कलाकार काम कर रहे हैं। ‘‘अंग्रेजी मीडियम” के बाद मदान ने ‘‘शिद्दत” की शूटिंग की जो उनकी चौथी फिल्म है। फिल्म में मदान ने कर्तिका नाम की महिला का किरदार निभाया है लेकिन अभिनेत्री का कहना है कि वह असल जिंदगी में कौशल के किरदार जग्गी जैसी ‘‘दयालु और उदार स्वभाव” वाली इंसान हैं। ‘‘शिद्दत” एक अक्टूबर को डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज होगी।