चमड़े के अलावा अब मशरूम से भी बनाएं जा सकते हैं जूते और फैशनेबुल बैग

कपड़े, जूते या बैग लोगों के रोज़मर्रा की ज़िंदगी का एक अहम हिस्सा हैं। साथ ही यह फैशन का भी एक बड़ा सोर्स है। इसका स्टाइलिश होना लोगों की पर्सनालिटी को दर्शाता है। इसलिए लोग अलग-अलग डिज़ाइन के कपडे, जूते, बैग खरीदते हैं। वहीं लोगे ज़्यादातर चमड़े से बने बैग और जूते ही इस्तेमाल करते हैं। पर शयद किसी को पता भी नहीं होगा या कभी कल्पना भी नहीं की होगी कि यह सारी चीज़ें मशरूम से भी बनाई जा सकती हैं। 

जी हाँ, एक अध्ययन में यह दावा किया गया है कि मशरूम, चमड़े को कड़ी टक्कर दे सकता है। मशरूम को दबाकर और उसे रासायनिक रूप से उसे संसाधित करके उससे चमड़े जैसे एक सख्त पदार्थ का निर्माण किया जा सकता है। ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना विश्वविद्यालय के अध्यन से पता चला है कि मशरूम का इस्तेमाल हैंडबग, कपड़े आदि बनाने में किया जा जाता है। इसकी खास बात यह है कि यह अंत में बायोडिग्रेडेबल यानी प्राकृतिक तरीके से सड़नशील है। 

चमड़ा से कई चीज़ें पिछले कई दशकों से बनाई जा रही है। वहीं यह टिकाऊ और बहुमुखी प्राकृतिक सामग्रियों में से एक बना हुआ है। लेकिन ऐसे बहुत  से लोग है जो जानवरों से मिलने वाले उत्पादों को पहनने या उसे कैरी करने से कतराते हैं। साथ ही ऐसे कई लोगभी हैं जो इसके नैतिक प्रभाव और पर्यावरणीय स्थिरता पर सवाल उठा चुके हैं।