पुदीना के पत्ति‍यों का इस्तेमाल कर निखारे रूप

-सीमा कुमारी

हम पुदीने का प्रयोग चटनी बनाने के लिए करते हैं, और तो गर्मियों में पिने वाली शिकंजी में भी इसका यूज़ करते हैं, लेकिन इसके अलावा खूबसूरत त्वचा पाने में भी यह एक अहम भूमिका निभाता है, पुदीना एक ऐसा हर्ब है,जो ड्राई, ऑइली और सामान्य त्वचा को अलग-अलग तरीके से ट्रीट करता है, जिसके कारण यह स्किन को खासतौर से मुंहासों की समस्या से निजात दिलाने में मददगार होते हैं, इतना ही नहीं यह स्किन को कूलिंग इफेक्ट भी देता है,पुदीने के नियमित इस्तेमाल से आपको कुछ ही दिनों में एक निखरी त्वचा मिल सकती है.आज मै पुदीने से आपको अपनी स्किन की देखभाल का कुछ तरीका बताने जा रही हूँ जो आपको काफी पसंद आएगी.

कील-मुंहासों की समस्या दूर करने के लिए ;-
पुदिनी की पत्ति से कील-मुंहासों और दाग-धब्बों को दूर करने में कारगर साबित होता है. पुदीने की पत्तियों में सैलीसिलिक एसिड पाया जाता है.पुदीने की पत्त‍ियों को पेस्ट की तरह पीस कर अपने  चेहरा पर इसे इस्तेमाल कर सकते है, या कुछ मात्रा में गुलाब जल भी मिला सकते हैं. कुछ ही हप्तो में आपका त्वचा में फर्क महसूस होने लगेगा.

निखार लाने के लिए ;-
यह न केवल त्वचा की सफाई करने के काम आता है, बल्क‍ि इसके नियमित इस्तेमाल से त्वचा की रंगत भी बढ़ती है,पुदीने की पत्तियों के पेस्ट या फिर इसके रस को नियमित रूप से चेहरे पर लगाने से चेहरे में निखार आता है.

त्वचा को पोषित करने के लिए ;-
जिस तरह खीरे का इसतेमाल करने से त्वचा को मॉइश्चर और ठंडक मिलता है, उसी प्रकार पुदीना  की पत्ती ठंडक देने के साथ-साथ  त्वचा को ताजगी देने के साथ नमी भी देती है. इसके अलावा इन पत्तियों के रस को चेहरे पर लगाने से फोरे-फुंशी से भी निजात मिलती है |