कांच की चूड़ियां पहनकर हो गई हैं बोर, तो त्यौहारों पर ट्राय करें इन चूड़ियों को

त्यौहारों का सीज़न शुरू हो गया है। महिलाएं अब अपने कपड़ों से लेकर श्रृंगार तक के सामान खरीदने में जुट चुकी हैं। ऐसे में उन्हें अपने कपड़ों को लेकर कई समस्या भी होती है कि क्या खरीदें और क्या पहनें। ऐसे ही श्रृंगार को लेकर भी वे लोग दुविधा में रहती हैं। वहीं श्रृंगार के सामान की बात करें तो इसमें सबसे महत्वपूर्ण होती हैं चूड़ियां। इन्हें सुहाग का प्रतिक भी मन जाता है। इसलिए आज हम उनकी मदद करने लिए लाए हैं अलग-अलग तरह के चूड़ियों की डिज़ाइन। जिनकी मदद से आप अपने लिए चूड़ियां पसंद कर पाएंगी। तो आइए जानते हैं तरह-तरह के खूबसूरत चूड़ियों के बारे में…

आइवरी चूड़ियां-

आइवरी चूड़ियां को हाथी दांत की चूड़ियां कहा जाता है। इसे ज़्यादातर सिख और पंजाबी शादी में पहने हुए देखा जाता है। वहीं इन दिनों यह काफी ट्रेंड में है। हाथीदांत से बनी चूड़ियों पर नाज़ुक नक्काशी बनी होती है, जो बेहद खूबसूरत लगती हैं। इसकी सामग्री का उपयोग भारत में सदियों से गहने और मूर्तियां बनाने के लिए किया जाता रहा है। इन चूड़ियों को त्यौहारों पर पहन सकती हैं। 

लाख की चूड़ियां-

पिछले कई सालों से महिलाएं लाख की चूड़ियां पहनती हुई आई हैं। इन चूड़ियों को ज़्यादातर भारत, नेपाल, पाकिस्तान और बांग्लादेश में की महिलाओं द्वारा पहना जाता है। यह दिखने में बेहद खूबसूरत होते हैं, साथ ही यह पारंपरिक चूड़ियां भी हैं।

लकड़ी की चूड़ियां-

लकड़ी की चूड़ियां जितनी दिखने में खूबसूरत होती हैं, उतनी ही यह मज़बूत भी होती हैं। लकड़ियों पर अलग तरह के डिज़ाइन बनाकर इन्हें चूड़ियों का आकर दिया जाता है। वहीं अगर आप एक बजट पर हैं और एलिगेंट गहने पसंद करती हैं तो लकड़ी की चूड़ियां बिल्कुल वैसी ही हैं, जो आप पसंद करेंगी। 

शाखा पोला चूड़ियां-

यह चूड़ियां शंख से बनाई जाती है और इसे बंगाली महिलाओं द्वारा पहना जाता है। शाखा और पोला बंगाली हिंदू संस्कृति में एक विवाहित महिला का प्रतीक हैं। यह चूड़ियां ज्‍यादातर सफेद रंग के होते हैं और इसे शुभ माना जाता है। इसे आप लाल रंग की चूड़ियों के साथ कॉम्बिनेशंस कर पहन सकते हैं।