जाने किस तरह पहचाने दूध असली है या नकली, इन 4 तरीके से की जाती है मिलावट

    नई दिल्ली : दूध हमारे खानपान के चीजों में सबसे महत्वपूर्ण चिज मे से एक है। दूध को संपूर्ण आहार कहा जाता है लेकिन यह संपूर्ण आहार उस वक्त खतरनाक हो जाता है जब इसमें मिलावट करके इसकी शुद्धता कम कर दी जाती है।शायद ही कोई इस बात पर गहराई से सोचता हों, लेकिन मिलावट वाला दूध हमारे सेहत के लिए बेहद खतरनाक है।   

    कई बार ऐसा होता है कि दूध में सिर्फ पानी ही नहीं मिलाया जाता बल्कि इसकी मात्रा बढ़ाने के लिए इसमें कई केमिकल्स भी मिला दिए जाते हैं, जो न सिर्फ आपको बीमार बना सकते हैं बल्कि बढ़ते बच्चों के विकास में भी बाधक बन सकते हैं। तो आइए, जानते हैं कैसे करें दूध में मिलावट की पहचान…

    पानी 

     ढलान वाली सतह पर दूध की एक बूंद डालें। शुद्ध दूध की बूंद धीरे-धीरे सफेद लकीर छोड़ते हुए जाएगी, जबकि पानी की मिलावट वाली बूंद बिना कोई निशान छोड़े बह जाएगी। इस तरह आप साली और नकली दूध को पहचान सकते है। 

    स्टार्च

    लोडीन का टिंर और लोडीन सॉल्यूशन में कुछ बूंदें डालें, अगर वह नीली हो जाएं, तो समझें कि वह स्टार्च है।  तरह करें असली दूध की पहचान। 

     यूरिया

    एक चम्मच दूध को टेस्ट ट्यूब में डालें। उसमें आधा चम्मच सोयाबीन या अरहर का पाउडर डालें। अच्छी तरह से मिला लें। पांच मिनट बाद, एक लाल लिटमस पेपर डालें, आधे मिनट बाद अगर रंग लाल से नीला हो जाए, तो दूध में यूरिया है।

    डिटर्जेंट

    5 से 10 एमएल दूध को उतने ही पानी में मिला के हिलाएं। अगर झाग बनती है, तो डिटर्जेंट है। यह आसान से तरीके अपनाकर अपने घर में ही दूध के असली या नकली होने की पहचान करें