Let's make watermelon peel marmalade in summer

गर्मियों में यूँ तो हम वैसे भी अधिक गरिष्ट खाने से बचते हैं।वहीं इस मौसं में जेली, टनी और  मुरब्बे का चलन बढ़ जाता है। आपने तरबूज तो बहुत खाया होगा पर कभी आपने इसका मुरब्बा भी खाया है। आईये आज हम मिलकर बनाते हैं तरबूज के छिलकों का मुरब्बा। आपको बता दें कि तरबूज के छिलकों के  गूदे से सब्जी या जैम तो बनता ही है। इससे निर्मित  मुरब्बा बहुत ही स्वादिष्ट और ठंडी तासीर वाला होता है।

मुरुब्बे में प्रयुक्त होने वाली सामग्री:

  • तरबूज के मोटे छिलके – 2 कि।ग्रा तरबूज से निकाले गये
  • चीनी – 1 कप ( 250 ग्राम)
  • छोटी इलाइची – 6 छील कर पाउडर किया हुआ 
  • जायफल पाउडर – 1-2 चुटकी बस 

विधि:  आप तरबूज के मोटे छिलकों  को छील लीजिये। अब इसकी डार्क ग्रीन सख्त छिलके छील कर हटा दीजिये और इन्हें 1 -1 इंच के टुकड़े काट कर तैयार कर लीजिये। अब इन छिलकों को गर्म पानी 5 मिनट ब्लांच कर लीजिये।

अब एक बर्तन में तरबूज के ब्लांच किए हुए टुकड़ों को डालिये, उनके ऊपर चीनी डाल दीजिये और ढककर 2 घंटे के लिए रख दीजिए। विदित हो कि चीनी तरबूज के पानी में घुल कर रस बना लेती है, अब इन तरबूज के टुकड़ों को चीनी के रस में धीमी आंच पर पकने के लिये रख दीजिये। इलाइची पाउडर और जायफल भी इसमें डालकर मिला दीजिये और फिर चाशनी को गाड़ा होने तक पका लीजिये। चाशनी को चैक करते रहिये।

आपको बता दें की इस रेसिपी में हमें 2 तार कि चाशनी लगेगी। यदि चाशनी में तार नहीं बन रहा है तब मुरब्बे को थोड़ा और पकाइये। अब मुरब्बे को इसी चाशनी में ही रहने दीजिये, रोजाना दिन में एक बार चमचे से चलाकर इन टुकड़ों को ऊपर से  नीचे कर दीजिये, 2-3 दिन बाद चाशनी को फिर से चैक कर लीजिये, अगर चाशनी पतली लग रही है तब मुरब्बा को चाशनी गाढ़ी होने तक एक बार फिर से पका लीजिये। तरबूज के छिलके का मुरब्बा बन कर तैयार है।