नवरात्री में फलहार के रूप में खाएं सिंघाड़े की लपसी

नवरात्री शुरू हो चुकी है और इस दौरान बहुत से लोग व्रत रखते हैं। उन्हीं लोगों को ध्यान में रखते हुए आज हम आपके लिए लाए हैं, सिंघाड़े की लपसी की रेसिपी। इसे आप व्रत के दौरान फलहार के रूप में खा सकते हैं। इसे बनाना बेहद ही आसान है साथ ही इसका स्वाद बेहद ही लाजवाब होता है। तो आइए जानते हैं इसे बनाने की विधि…

सामग्री

  • सिंघाडे़ का आटा – 3/4 कप (100 ग्राम)
  • चीनी या गुड़ – 1/2 कप (100 ग्राम)
  • घी- 2 बड़े चम्मच
  • इलायची पाउडर – 1/4 छोटी चम्मच 

विधि

  • सिंघाड़े की लपसी बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन में घी डालकर गर्म होने दें। फिर इसमें सिंघाड़े का आटा डाले, और मीडियम आंच पर लगातार चलाते हुए आटे का कलर बदलने तक भूनें।
  • इसे भूनें हुए आटे को अब एक बर्तन में निकाल लें। अब सिंघाड़े के आटे में 1 कप पानी डालकर चलाइए जिससे आटे की गुठलियां खत्म हो जाए और आटा स्मूथ हो जाए।
  • अब इस घोल को एक पैन में डालकर 1 कप पानी डालें। फिर इसमें चीनी डालते हुए सिंघाड़े के आटे के घोल को तेज़ आंच पर गाढ़ा होने तक पकाएं। जब घोल गाढ़ा हो जाए तब आंच को मीडियम कर दें।
  • मीडियम आंच पर घोल को कलछी की सहायता से चलाते रहें। ध्यान रहे इसमें गुठलियां ना पड़ें। आटे को और गाढ़ा होने पर इसमें इलायची डाल कर मिक्स करें, आटे को तब तक चलाते हुए पकाएं जब तक की वह कढ़ाई से अलग न होने लगे।
  • घोल को पक जाने के बाद गैस बंद कर दें। सिंघाड़े की लपसी को जमाने के लिए एक ट्रे या थाली लीजिए। इसमें ब्रश की मदद से चारों तरफ थोड़ा सा घी लगा दें।
  • अब घोल को इस ट्रे में चरों तरफ अच्छे से फैला दें। आटे को पूरे ट्रे में एक जैसा सेट करने के लिए एक चम्मच में हल्का घी लगाकर, घोल को फैलाएं। सिंघाड़े के आटे को सेट होने के लिए 10 से 15 मिनट के लिए रख दें।
  • 15 मिनिट बाद यह सेट हो चूका होगा। अब इसे चाकू की मदद से चकोर टुकड़ों में काट कर अलग प्लेट में निकाल लें। सिंघाड़े की स्वादिष्ट लपसी बनकर तैयार है।