बच्चे की हर अचीवमेंट को बनाएं कुछ खास, दें स्पेशल ट्रीट

हम सब को ट्रीट लेना पसंद होता है। खासकर बच्चों को ट्रीट मिल जाएं तो उनके खुशी का ठिकाना ही नहीं रहता। बच्चों के बर्थ-डे के साथ-साथ पेरेंट्स को उनके छोटे मोटे अचीवमेंट्स पर भी सेलीब्रेट करना चाहिए।

हम सब को ट्रीट लेना पसंद होता है। खासकर बच्चों को ट्रीट मिल जाएं तो उनके खुशी का ठिकाना ही नहीं रहता। बच्चों के बर्थ-डे के साथ-साथ पेरेंट्स को उनके छोटे मोटे अचीवमेंट्स पर भी सेलीब्रेट करना चाहिए। जरूरी नहीं की आप कोई बड़ी सी पार्टी करें या फिर कोई बड़ा सा गिफ्ट दें, बच्चों की छोटी-छोटी ख्वाहिश पूरी कर के भी उन्हें खुशी दें सकते हैं।

फुल-डे फ्री
यदी आपके बच्चें ने किसी स्पोर्टस या अन्य एक्टिविटी में कुछ खास किया हो, या किसी सब्जेक्ट में अच्छे अंक हासिल किए हो तो आप उन्हें स्पेशल ट्रीट कर सकते हैं। जिसमें उन्हें सारा दिन फ्री रहने दें, यानि ‘नो बुक्स नो बैग’ की खुशी आप उन्हें दें सकते है। इससे बच्चा अगली बार अपनी ओर से और अधिक मेहनत करेगा।

एक्सट्रा टीवी टाइम
बच्चें की खुशी के साथ ही मां-बाप की खुशी होती है। बच्चें के काम से जब आप खुशी महसूस कर रहें हो तो उन्हें भी खुशी मनाने का मौका दें। इसके लिए आप उन्हें एक्सट्रा टी.वी. देखने दें। हो सके तो आप खुद भी उनके साथ बैठकर टी.वी देखे।
 
मनमर्जी करने दें
बच्चें शरारती होते है उन्हें शोर-शराबा और शरारतें करना पसंद होता है। पर पेरेंट्स हमेशा बच्चों को मस्ती करने से रोकते है। कभी-कभी उनके खास अचीवमेंट पर उन्हें अपनी मनमर्जी करने का मौका दें। जिससे बच्चे खास दिन को एन्जॉय कर सके।
 
फ्रेंड डेट पार्टी
यदि बच्चें की उम्र थेड़ी ज्यादा है तो आप उन्हें बाहर फ्रेंड्स से मिलने जाने दें। या हो सके तो उसके फ्रेंड्स को घर पर बुलाकर ही छोटी सी ट्रीट दे सकते हैं, जिससे बच्चा अपके सामने रहकर एन्जॉय कर सकेगा।
 
लेट नाईट परमिशन
एक ही टाइम पर सोना और जागना की रूटीन से बच्चें बोर हो जाते है। उनके अचीवमेंट्स पर उन्हें लेट नाइट सोने ओर दूसरे दिन आपे मन अनुसार उठने की परमिशन दें।