Hope we give good account of ourselves in upcoming friendlies, says disappointed Sunil Chhetri

    दोहा. आंतरराष्ट्रीय स्तर पर गोल की संख्या के मामले में दिग्गज लियोनेल मेस्सी को पछाड़ने के बाद भी करिश्माई भारतीय खिलाड़ी सुनील छेत्री को अपने कुल गोल की गिनती करना पसंद नहीं है। छत्तीस वर्षीय छेत्री ने सोमवार को ​फीफा विश्व कप 2022 और एएफसी एशियाई कप 2023 के संयुक्त क्वालीफाइंग मैच में बांग्लादेश के खिलाफ भारत की तरफ से दोनों गोल किये। इस तरह से उनके कुल अंतरराष्ट्रीय गोल की संख्या 74 हो गयी है। मेस्सी के नाम 72 अंतरराष्ट्रीय गोल है। भारतीय कप्तान ने कहा कि वह शायद 10 वर्षों के बाद अपने गोल की संख्या की गिनती करेंगे।

    उन्होंने कहा, ‘‘मैं गोल की संख्या को नहीं गिनता हूं। दस साल के बाद हम साथ बैठ कर बात करेंगे और इसे गिनेंगे।” विश्व कप क्वालीफायर में भारत की पिछले छह वर्षों में पहली जीत के नायक छेत्री सर्वाधिक गोल करने वाले सक्रिय खिलाड़ियों की सूची में केवल पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो (103) से पीछे हैं। अपने गोल के बजाय, छेत्री सोमवार को खेले गये मैच की कमियों को दूर करने पर ध्यान लगा रहे है। उन्होंने कहा, ‘‘हमने बहुत सारे मौके गंवा दिये थे। हम और बेहतर कर सकते थे। यह क्वालिफाइंग अभियान काफी उतार-चढाव से भरा रहा है। पीछे मुड़कर देखे तो लगता है कि हम इसमें बहुत बेहतर कर सकते थे।”

    छेत्री ने कहा, ‘‘हम इसके बारे में बात करेंगे लेकिन मुझे खुशी है कि हम तीन अंक हासिल करने में सफल रहे।” छेत्री ने सोमवार को जासिम बिन हमाद स्टेडियम में 79वें मिनट में पहला गोल दागा और फिर इंजुरी टाइम में दूसरा गोल करके भारत की जीत सुनिश्चित की। भारतीय कप्तान सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ियों की सर्वकालिक सूची में शीर्ष 10 में पहुंचने से केवल एक गोल पीछे हैं। वह हंगरी के सैंडो को​कसिस, जापान के कुनिशिगे कुमामोतो और कुवैत के बाशर अब्दुल्ला से एक गोल पीछे हैं। इन तीनों ने समान 75 गोल किये हैं। 

    खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘‘ सक्रिय अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों में मेस्सी को पछाड़कर दूसरा सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय गोल करने वाला खिलाड़ी बनने पर सुनील छेत्री को बधाई। मैंने बांग्लादेश के खिलाफ उनके शानदार दो गोल का आनंद लिया जिससे भारतीय टीम ने जीत हासिल की और उनके नाम 74 अंतरराष्ट्रीय गोल हो गये।”