football

    पोर्टो (पुर्तगाल). क्रिस्टियनर पुलिसिच (Christian Pulisic) विश्व के सबसे बड़े क्लब फुटबॉल टूर्नामेंट चैंपियन्स लीग के फाइनल में खेलने वाले पहले अमेरिकी बन गये हैं और उनकी टीम विजेता बनने में भी सफल रही। चेल्सी के फारवर्ड पुलिसिच 66वें मिनट में स्थानापन्न खि​लाड़ी के रूप में मैदान पर उतरे। तब उनकी टीम मैनचेस्टर सिटी के खिलाफ 1—0 से आगे चल रही थी।

    यह 22 वर्षीय खिलाड़ी 2019 में जर्मन क्लब बोरुसिया डोर्टमंड से चेल्सी से जुड़ा था। उनके पास फाइनल में गोल करने का मौका भी था। उन्होंने 73वें मिनट में सिटी के गोलकीपर एडर्सन मोरियास को छकाकर गोल की तरफ शॉट जमाया लेकिन यह बाहर चला गया।पुलिसिच ने कहा, ”मुझे जो मौका मिला था काश मैं उसका फायदा उठा पाता। मैं गेंद पर अच्छी तरह से शॉट नहीं जमा पाया लेकिन आखिर में हमारी टीम जीती और मुझे इस पर गर्व है। ” सिटी की टीम में भी अमेरिका के गोलकीपर जॉक स्टीफन शामिल थे लेकिन उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला।