मयमोल रॉकी ने भारतीय महिला फुटबॉल कोच पद से इस्तीफा दिया

    नई दिल्ली: भारतीय महिला राष्ट्रीय टीम की चार साल तक कोच रही मयमोल रॉकी ने व्यक्तिगत कारणों से अपने पद से इस्तीफा दे दिया। राष्ट्रीय टीम के साथ सहायक कोच के रूप में भूमिका निभाने के बाद उन्हें 2017 में टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था। उनकी निगरानी में टीम ने बेहतर प्रदर्शन किया और कई अंतरराष्ट्रीय सफलताएं हासिल की। उन्होंने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) की वेबसाइट से बातचीत में उनकी क्षमताओं पर ‘विश्वास जताने के लिए ‘महासंघ’ का शुक्रिया अदा किया। 

    उन्होंने कहा, ‘‘इतने वर्षों तक मुझ पर और टीम पर विश्वास करने के लिए मैं अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ का तहेदिल से शुक्रिया अदा करती हूं।” उन्होंने कहा, ‘‘ पिछले कुछ वर्षों में हमने जो प्रगति की है, उसे देखकर मैं बहुत खुश हूं। हमें जो शानदार सुविधाएं और सफलता मिलीं उसका श्रेय महासंघ, भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) और ओडिशा सरकार से मिले समर्थन को जाता है।” एआईएफएफ के महासचिव कुशाल दास ने कहा, ‘‘ मयमोल रॉकी ने व्यक्तिगत कारणों से सीनियर राष्ट्रीय महिला फुटबॉल टीम के मुख्य कोच के रूप में बने रहने में असमर्थता व्यक्त की है।” 

    उन्होंने कहा, ‘’ हमने उनके फैसले को स्वीकार कर लिया है और भारतीय फुटबॉल में उनके योगदान के लिए उन्हें धन्यवाद देते हैं। उनके भविष्य के कार्यों के लिए उन्हें हमारी शुभकामनाएं।” भारत की पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रही मयमोल ने कोच के कार्यकाल को अपने करियर का ‘सर्वश्रेष्ठ चरण’ करार दिया और इस दौरान टीम के प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ‘‘अगर मैं पीछे मुड़कर देखती हूं, हमने कई उतार-चढ़ाव देखे है लेकिन निश्चित रूप से यह मेरे करियर का सबसे अच्छा दौर था। जब मैं टीम से जुड़ी तब से टीम काफी आगे बढ़ी है। इस दौरान मुझे भी काफी कुछ सीखने को मिला।” 

    भारतीय महिला राष्ट्रीय टीम ने नवंबर 2018 में पहली बार ओलंपिक क्वालीफायर के दूसरे दौर में जगह बनाकर इतिहास रचा था। टीम ने 2019 में एसएएफफ महिला चैम्पियनशिप में खिताब जीतने के अलावा नेपाल में आयोजित दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक हासिल किया था। भारत अगले साल पहली बार एएफसी महिला एशियाई कप की मेजबानी करेगा। मयमोल ने इस टूर्नामेंट के लिए टीम को शुभकामनाएं दीं। (एजेंसी)