सालभर से पांच गावों के 14 बोअरवेल बंद, ग्रापं पुरसलगोंदी के ग्राम सचिव पर नागरीकों का रोष

    •  ग्रामस्थों ने दी पेयजल के लिए पंस दस्तक  

    अहेरी/एटापल्ली: तहसील के अतिदुर्गम क्षेत्र होनेवाले पुरसलगोंदी ग्रामपंचायत क्षेत्र के पांच गावो के करीबन 14 बोअरवेल विगत सालभर से बंद स्थिति में है. फलस्वरूप ग्रामस्थों को पेयजल के लिए भटकना पड रहा है. यह बात स्थानीय ग्रामसेवक को बताने पर भी इस ओर ग्रामसेवक की अनदेखी होने से नागरिको में रोष व्याप्त है.  यह रोष व्यक्त करते हुए पानी की समस्या तत्काल हल करें ऐसी मांग करते हुए पुरसलगोंदी ग्रामस्थों ने पंचायत समिति पर दस्तक दी.

    जिले के एटापल्ली तहसील अतिदुर्गम, पिछडा क्षेत्र के रूप में पहचाना जाता है. इस तहसील के कई गावों में पक्की सडके, बिजली, पेयजल की सुविधा नही, सार्वजनिक शौचालय भी नही. दुर्गम क्षेत्र के ग्रामपंचाय के ग्रामसेवक गाव के विकास की ओर अनदेखी करने से गाव का विकास रूका है.

    ग्रामपंचायत क्षेत्र के नागरीक कई शासकीय योजनाओं से वंचित होकर इस क्षेत्र का अभी तक विकास नही हुआ. एटापल्ली पंस अंतर्गत आनेवाले पुरसलगोंदी गाव तहसील मुख्यालय से केवल 25 किमी दूरी पर है. इस ग्रामपंचायत अंतर्गत भांड्या, हेडसगोंदी, सुरजागढ, बोडमेंट्टा आलेंगा, पुसरलगोंदी, आलुर, मंगेर, हेडरी, मलमपाडी, गोदेली, नेन्डेर, कुसूमपल्ली ऐसे कुल 14 गावो का समावेश है.

    इन ग्रामपंचायत क्षेत्र के पांच गावो के 14 बोअरवेल विगत सालभर से बंद स्थिति में है. परिणामतर: ग्रामस्थों को पुराने कुअे, नाले, नदी या तलाब के पाणी का उपयोग करनपा पड रहा है. बोअरवेल खराब होने संबधी स्थानीय ग्रामसेवक को एक साल पहले ही जानकारी देने पर भी इस ओर ग्रामसेवक की अनदेखी हो रही है. 

    फलस्वरूप ग्रामसेवक के प्रति रोष व्यक्त कर पाणी की गंभीर समस्या तत्काल हल करने पुरसलगोंदी ग्रामपंचायत क्षेत्र के ग्रामस्थों ने आज 23 मार्च को पंस कार्यालय पर दस्तक दी. इस समय बीडीओ उमेश नंदागवली से ग्रामस्थों ने चर्चा कर आगामी पांच दिनों में बोअरवेल  की मरम्मत नही होने पर पंचायत समिति के समक्ष धरणा आंदोलन करने की चेतावनी दी.

    इस समय बीडीओ नंदागवली ने ग्रामस्थों से चर्चा कर जल्द ही समस्याओं का निराकरण करने का आश्वासन दिया तथा ग्रामसेवक की शिकायत संबंधी विस्तार अधिकारियो के समक्ष समस्या रखने की सलाह दी. ज्ञापन देते समय ग्रापं  उपसरपंच राकेश कवडू, ग्रापं सदस्य अजय सडमेक, निर्मला गुंडरू, मधुकर सडमेक, अवी गुंडरू, दीपक सुनतकर समेत पुरसलगोंदी के ग्रामस्थ उपस्थित थे.