देसाईगंज में 30 टन तमाकू जब्त, अवैध तमाकू बिक्रेताओं में खलबली

  • एलसीबी व पुलिस प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई

गडचिरोली. देसाईगंज किराणा व्यापारी असोसिएशन के प्रयासों से 90 प्रतिशत शहर तमाकूमुक्त हुआ है. मात्र अब भी 10 प्रतिशत दुकानदार शहरात तमाकू की बिक्री कर रहे है. उनपर कार्रवाई करने संदर्भ में ज्ञापन असोसिएशन की ओर से पुलिस प्रशासन को हाल ही में पेश किया गया. इस ज्ञापन की सुध लेते हुए पुलिस प्रशासन व स्थानीय अपराध शाखा ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए शहर के एक गोडाऊन से 30 टन तमाकू जब्त किया गया है. इस कार्रवाई के चलते शहर के अवैध शराब बिक्रेताओं में खलबली मची है. 

जिले के कोरोना संक्रमण का बढता खतरा व प्रशासन के निर्देश ध्यान में लेते हुए तमाकूजन्य पदार्थो की बिक्री पूर्णत बंद करने के लिए मुक्तीपथ अभियान व देसाईगंज किराणा व्यापारी असोसिएशन की हाल ही में बैठक हुई. इस बैठक में शहर तमाकूमुक्त करने का निर्णय असोसिएशन ने लिया था. वहीं अवैध रूप से तमाकू की बिक्री करनेवालों पर कार्रवाई करने संदर्भ में पुलिस प्रशासन को किराणा व्यापारी असोसिएशन के जेसा मोटवाणी, मुक्तीपथ के संचालक मयूर गुप्ता इन्होने ज्ञापन पेश किया था. इस समय तमाकू बिक्री पर नकेल कसने के लिए आगे आकर कार्रवाई करने की जानकारी प्रभारी थानेदार बावणकर ने दी थी. 

शहर की सबसे बढी कार्रवाई 
गुप्त जानकारी के आधार पर पुलिस प्रशासन व स्थानीय अपराध शाखा के दस्ते ने संयुक्त रूप से गुरूवार 30 जुलाई को रात के दौरान शहर के तुकूम वार्ड के एक व्यापारी के गोडाऊन में छापा मारा. इस दौरान गोडाऊन में गुजरात से लाया गया 30 टन तमाकू व 2 गुडाखू के बाक्स पाए गए. उक्त माल जब्त कर उस गोडाऊन को सील लगाया गया. अबतक शहर की यह सबसे बडी कार्रवाई होकर अवैध तमाकू बिक्रेताओं में दहशत मची है.