धान कटाई करते समय बरते सावधानी

  • वन्यजीव रक्षक दुमाने की अपील

आरमोरी. हल्के व मध्यम प्रजाति के धान की कटाई शुरू है अगस्त माह में वैनगंगा नदी में आई बाढ के कारण पानी के साथ ही अनेक जहरीले सांपों ने खेती में प्रवेश किया है। जिससे किसान धान की कटाई व बोझ बांधते समय सावधानी बरते ऐसी अपील वन्यजीव रक्षक तथा वृक्षवल्ली वन्यजीव संरक्षण संस्था के अध्यक्ष देवानंद दुमाने ने की है।

अगस्त माह में गोसेखुर्द बांध व मध्यप्रदेश से छोडे गए पानी के कारण गडचिरोली जिले में बाढ की स्थिति निर्माण हुई थी। आरमोरी, देसाईगंज, गडचिरोली, चामोर्शी व जिले के अन्य क्षेत्रों में बाढ आने से बाढ के पानी के साथ अनेक विषैले सांप बाढ में बहकर आए। इन सांपों ने खेती परिसर में प्रवेश किया। वहीं कुछ दिन पूर्व तूफानी बारिश होने से धान की फसल सो गई है। वह धान फसल सांपों के छूपने के लिए उपयुक्त जगह होने से वहां साप कुंडली मारकर बैठे रह सकते है्र। जो धान कटाई करने वालों के लिए खतरनाक होगा। पिसाई करते समय ठंड के दिन होने से सांप गर्माहट के लिए धान इकट्टा किए जगह छुपकर रहते है। इसलिए कटाई करने वालों से सावधानी बरतने की अपील की है।