किसानों ने चामोर्शी में किया चक्काजाम आंदोलन

  • सरकारी समर्थननमुल्य कपास खरीदी केंद्र शुरू करने की मांग

चामोर्शी. जिले में सरकार के समर्थनमुल्य कपास खरीदी केंद्र शुरू करे, इस मांग को लेकर कृषि उपज बाजार समिति के सभापति तथा जिप सदस्य अतुल गण्यारपवार के नेतृत्व में किसानों ने शुक्रवार को चक्काजाम आंदोलन किया. इस समय तहसीलदार आकाश अवतारे ने आंदोलनस्थल पर भेट देकर ज्ञापन स्विकारते हुए किसानों की समस्याएं समझी. 

वर्ष 2019-20 में प्रथम बार अनखोडा के जिनिंग प्रेसिंग में सरकार का समर्थन मुल्य केंद्र शुरू किया गया है. इस वर्ष के सीजन में समर्थनमुल्य कपास खरीदी केंद्र शुरू रखने के लिए मुख्यमंत्री, पणन मंत्री व अधिकारियों को ज्ञापन दिया गया था. मात्र सरकार द्वारा घोषित किए गए समर्थनमुल्य कपास खरीदी केंद्र के सुची में गडचिरोली जिले का समावेश नहीं था. यह बात सरकार के निदर्शन में लायी गई गई. इसके पश्चात पणन महासंघ को ज्ञापन भी सौंपा गया.  मात्र 7 दिनों का कालावधि बितने के बावजूद पणन महासंघ ने जिले में कपास खरीदी केंद्र शुरू नहीं किया. फलस्वरूप किसानों को कम दामों में निजी व्यापारियों को कपास बेचना पड रहा है.

किसानों का वित्तीय नुकसान टालने के लिए समर्थन मुल्य कपास खरीदी केंद्र शुरू करे, इस मांग को लेकर गण्यारपवार के नेतृत्व में चामोर्शी बसस्थानक पर चक्काजाम आंदोलन किया गया. तत्काल खरीदी केंद्र शुरू न करने पर किसान जगह जगह आंदोलन करेंगे, ऐसी चेतावनी भी दी गई. तहसीलदार आकाश अवतारे ने प्रत्यक्ष आंदोलनस्थल पर भेट देकर किसानों की समस्याएं समझी. इस मसय तहसीलदार को ज्ञापन पेश किया गया. इस समय कृउबास के उपसभापति विश्वनाथ मल्लिक, सदस्य सुधाकर निखाडे, पंस सदस्य सुरेश परसोडे, नितेश गद्देवार, सुधाकर दद्दे, रमेश भसारकर, राजु आत्राम, नामदेव किनेकार, मधुकर चिंतलवार, वामन गौरकार, वासुदेव दिवसे, संजय येडगिलवार, श्यामराव गुडवार, यादव पाल, क्रिष्णा नैताम, मुर्लीधर बुरे आदि पदाधिकारियों के साथ किसान उपस्थित थे.