तज्ञ वैद्यकीय अधिकारियों के पद भरे

  • sकांग्रेस तहसिलध्यक्ष हकीम की स्वास्थ्यमंत्री की ओर मांग

आलापल्ली. तहसील के मरीजों पर समय पर उपचार मिलने के दृष्टी से उपजिला अस्पताल अहेरी के मंजूर तज्ञ डाक्टरों के पद तत्काल भरे जाए, ऐसी मांग भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अहेरी तहसीलध्यक्ष मुश्ताक हकीम ने तहसीलदारद्वारा राज्य के स्वास्थ्यमंत्री राजेश टोपे को भेजे हुए ज्ञापन से की है. 

ज्ञापन में कहा है की, गडचिरोली जिला अतिपिछडा, नक्षलग्रस्त, जंगलों से घिरा है. जिले के अहेरी तहसील में उपजिला अस्पताल है. इस उपजिला अस्पतालअंतर्गत अहेरी, भामरागढ, एटापल्ली, सिरोंचा, मुलचेरा इन 5 तहसील का समोवश है. यहा के मरीज उपचार के लिए अहेरी में आते होकर इस क्षेत्र में मलेरिया, क्षयरोग, सिकलसेल बीमारी व मातामृत्यू, बालमृत्यू का प्रमाण भारी मात्रा में है. मात्र तज्ञ वैद्यकीय अधिकारी न होने के कारण उन्हें फिर से गडचिरोली अथवा चंद्रपूर में उपचार के लिए 150 किमी की दूरी तय करनी पडती है.

उपजिला अस्पताल में विगत दो-तीन वर्षों से तज्ञ डाक्टरों के पद रिक्त होने से इस परिसर के मरीजों को समय पर उपचार न मिलने से मरीजों की समय के अभाव में मृत्यू होती है. अहेरी तहसील व आसपास के तहसील अतिपिछडा होकर परिसर के लोग दारिद्र रेखा के नीचे अपना जीवन जीते है. इस परिसर में लोगों को समय पर उपचार मिले, इसके लिए अहेरी उपजिला अस्पताल में तज्ञ डाक्टरों की पद आनेवाले 10 दिनों तक भरे जाए, अन्यथा अहेरी तहसील कांग्रेस की ओर से उपजिला अस्पताल के सामने आंदोलन छेडने की चेतावनी मुश्ताक हकीम ने ज्ञापन से दी है.

मंजूर रहनेवाले पद

अहेरी उपजिला अस्पताल में शस्त्रक्रिया तज्ञ 1, अस्थीरोग तज्ञ 1, भिषक तज्ञ 2, नेत्र चिकित्सक 1, बालरोग तज्ञ 2, मुत्ररोग तज्ञ 1, स्त्रिरोग तज्ञ 2 व भूलतज्ञ 2 ऐसे कुल 12 पद मंजूर है. मात्र इनमें से एक भी वैद्यकीय अधिकारियों के पद नहीं भरे जाने से मरीजों को समय पर उपचार मिलना कठीण हुआ है.