eknath shinde

गडचिरोली. कोरोना संक्रमण रोकने के लिए गडचिरोली शहर में 8 दिन का जनता कर्फ्यू लगाया गया है। नागरिकों के सहयोग के अलावा संक्रमण रोकना संभव नही। जिससे नागरिकों ने आवश्यकता होने पर ही घर के बाहर निकलने की अपील पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने की है।

अब तक जिले में कोरोना के चलते 15 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। 17 लोगों को तीव्र स्वरूप में लक्षण पाये गये उनका आईसीयू में उपचार शुरू है। जिले के कोरोना बाधितों का आकडा 2 हजार के उपर गया है। हाल ही में उनमें से 538 मरीज सक्रिय है तथा रोज बडी संख्या में कोरोना बाधित मिल रहे है। ऐसे स्थिति में सभी जनता व लोकप्रतिनिधियों को इसके लिए सहयोग करना आवश्यक है। कोरोना को रोकने के लिए जनता कर्फ्यू को सभी स्तर पर सहयोग मिलना काफी आवश्यक है। व्यापारी संगठना तथा लोकप्रतिनिधिओं ने गडचिरोली शहर में एकजुट होकर लागू किये जनता कर्फ्यू को हर नागरिक सहयोग करे, ऐसी बिनती पालकमंत्री शिंदे ने की है।

प्रशासनव्दारा सतर्कता के रूप में दिए हुए सुझाव का पालन करे, मास्क लगाए, सोशल डिस्टन्सिंग बनाये रखे, कोरोना के लक्षण होने पर स्वास्थ्य विभाग को संपर्क करें। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए प्रशासन हमेशा प्रयास कर रही है। सभी ने दिए हुए सूचनाओं का पालन कर अपने साथ अपने परिवार को सुरक्षित रखे। लोगों अपने लिए शांति के मार्ग से छेडा हुआ यह बंद है। इसमें कोरोना मरीज खोजना, कोरोना संक्रमण रोकना तथा जिससे होनेवाली मृत्यु रोकना इसका मुख्य उद्देश्य है। इस प्रक्रिया में प्रशासन को सहयोग कर संभावित कोरोना बाधित अपनी जानकारी दे। जिससे संक्रमण काबू में रखने के लिए मदद होगी, तथा ‘मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी’ मुहिमअंतर्गत आए पथक को सहयोग कर स्वास्थ्य विषयक जानकारी देने की अपील पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने दी है।