वन मजदुरो की मजदुरी तत्काल मिलाकर दें

  • वनमजदुरों का विधायक डा. होली को ज्ञापन

चामोर्शी. पिछले वर्ष से वन विभाग में बिट कटाई व अन्य कार्य की मजदूरी न मिलने से तहसिल के नरेंद्रपूर, वरूर, चापलवाडा के 50 वन मजदुरों पर भुखमरी की नौबत आन पडी है. मजदुरों के पैसे तत्काल देने के लिए अपने स्तर से कार्रवाई करे, ऐसी मांग वनमजदुरों ने विधायक डा. देवराव होली की ओर से ज्ञापन से की है.

एक वर्ष से मजदुरी बकाया
तहसिल के नरेंद्रपुर, वरुर, चापलवाडा के 50 मजदुरों ने वनविभाग का पिछले जनवरी माह में तकरीबन दो माह की मजदुरी की. किंतु उक्त वन मजदुरों को वनविभाग ने एक वर्ष से मजदुरी नहीं दी. जिससे मजदुरों का परिवार वित्ती चिंता में आ चुका है. इस समस्या को लेकर  पंस सदस्य सुरेश कामिलवार के मार्गदर्शन में वनमजदुरों ने विधायक डा. देवराव होली के जनसंपर्क कार्यालय में भेट देकर वन मजदुरी हासिल करने के लिए अपने स्तर पर पहल करने की मांग की. इस समय वनमजदूर रवीन मंडल, भूप्पाल मंडल, रंजन हलदार, श्यामल माझी, परिमल मंडल, प्रशांत मंडल, विमल माझी, विवेक माझी, नितीश मिस्त्री, संजित मंडल, कृष्णा तपाली, युवराज तंटकवार, प्रभाकर मेकलवार, रमेश मोहूर्ले ने ज्ञापन से की. 

मुख्य वनसंरक्षकों से चर्चा 
विधायक डा. देवराव होली ने वन मजदुरों की समस्या ध्यान में लेकर तत्काल वन विभाग के मुख्य वनसंरक्षक रामाराव, उपवनसंरक्षक तांबे के साथ संपर्क कर चर्चा की. इस समय संबंधित अधिकारियों ने तत्काल वन मजदुरों की मजदुरी पैसे देने का आश्वासन दिया.