धान खरीदी योजना ऐप में सुधार करें

  • आदिवासी विकासमंत्री, अन्न व नागरी आपूर्ति मंत्री को ज्ञापन

आरमोरी. वनाधिकार धारकों की खरीदी नाम पंजीयन करते समय एनईएमएल अॅप पर वन जमीन का पट्टा डाऊनलोड न होने से पट्टेधारक किसान वंचित रहने की संभावना है. जिससे आधारभुत धान खरीदी योजना के अॅप में सुधार की जाए, ऐसी मांग पूर्व विधायक ने आदिवासी विकास मंत्री के. सी. पाढवी व अन्न, नागरी आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल की ओर की है.

जिले में आदिवासी विकास महामंडल तथा मार्केटींग फेडरेशन की ओर से आदिवासी विभिन्न कार्यकारी सहकारी संस्था व खरीदी बिक्री सहकारी संस्था के अंतर्गत आधारभूत धान खरीदी केंद्र शुरू होने से किसानों समेत वनजमीन पट्टेधारक केंद्र पर धान बिक्री के लिए पंजीयन कर रहे है. किंतु इसमें सातबारा रहनेवाले किसानों का  एनईएम एल अॅप पर ऑनलाईन पंजीयन हो रहा है. इसमें सरकार ने वनजमीन पट्टे धारकों को खरीदी केंद्र पर धान बिक्री करने का निर्णय लिया है. सरकार ने वनाधिकारी पट्टेधारक किसानों को कुंआ लाईन व भौतिक सुविधा दी. किंतु आधारभूत धान खरीदी नाम पंजीयन करते समय एनईएमएम अॅप पर वन जमीन का पट्टा डाऊनलोड न होने के कारण अनेक किसान परेशानीओं में है. उक्त परेशानी किसानों ने पूर्व विधायक आनंदराव गेडाम को बताई.

आनंदराव गेडाम ने किसानों के हित में देरी न कर राज्य के आदिवासी विकास मंत्री व अन्न व नागरी आपूर्ति मंत्री की ओर अॅप में सुधार करने की मांग की थी. इस दौरान आदिवासी विकास मंत्री के. सी. पाढवी व अन्न व नागरी आपूर्ति मंत्री ने जल्द ही एनईएमएल अॅप में सुधार करने का आश्वासन दिया है. इस आश्वासन से वनाधिकारी पट्टेधारक किसानों को राहत मिलनेवाली है. इस समय काशिनाथ पोटफोडे, दिलीप घोडाम, भोलेनाथ धानोरकर, स्वप्नील ताडाम, प्रदिप गेडाम, रामदास पदा आदी उपस्थित थे.