महाराष्ट्र के गडचिरोली में जहरीली शराब पिने से 2 लोगों की मौत, 9 की हालत गंभीर

  • प्रत्याशी की शराब पडी महंगी 

चामोर्शी/आष्टी: जिले मे सर्वत्र ग्राम पंचायत चुनाव के की मतदान की प्रक्रिया शुरू रहते समय गडचिरोली जिले के चामोर्शी तहसील के लक्ष्मणपूर में मतदान की प्रक्रिया को कलंक लगने का मामला उजागर हुआ है. यहां एक प्रत्याशी ने मतदाताओं को प्रलोभन देते हुए पिलाए गए जहरीले शराब के कारण 2 लोगों की मृत्यू तो 9 लोगों की हालत गंभीर होने से खलबली मची है. इस मामले से मतदान के दौरान प्रत्याशी द्वारा दी गई शराब मतदाताओं को महंगी पडने की चर्चा जिले में शुरू है. 

जिले में दुसरे चरण में ग्रामपंचायत चुनाव की मतदान प्रक्रिया बुधवार को संपन्न हो रही थी. इस बिच चामोर्शी तहसील के आष्टी पुलिस थाना अंतर्गत आनेवाले लक्ष्मणपूर के ग्राम पंचायत चुनाव में बुधवार को मतदान शुरू था. इस दौरान यहां के एक प्रत्याशी ने सुबह 7 बजे से हाथभट्टे की गुड-महुआफुल की शराब वितरीत करना शुरू किया. जिन्होने शराब का सेवन किया, उसमें से कुछ लोगों की तबियत बिघडने लगी. जिससे उन्हे आष्टी के ग्रामीण अस्पताल में उपचार हेतु दाखिल किया गया.

मात्र प्रकाश फकिरा गौरकार (53) व रमेश नानाजी डूमणे (52) इन 2 लोगों की उपचार के दौरान मृत्यू हो गई. वहीं भगीरथ गोविंदा बट्टे (55), बालाजी नारायण डवले (68), शामराव काशिनाथ गौरकार (60) आणि राजेंद्र काशिनाथ गौरकार (40), बापूजी गोविंदा नांदेकर (65) इनकी हालत गंभिर होने से उन्हे आगामी उपचार हेतु चंद्रपूर के अस्पताल में रेफर किया गया है. 

इस दौरान घटना की जानकारी मिलते ही आष्टी पुलिस ने गुरुवार को लक्ष्मणपूर में पहुंचकर मोका पंचनामा किया. इस मामले में 2 प्रत्याशी के साथ लक्ष्मणपूर के 2 कार्यकर्ता ऐसे 4 लोगों को जांच के लिए पुलिस द्वारा हिरासत में लेने की जानकारी सुत्रों से मिली है. इस संदर्भ की अधिक जानकारी लेने का प्रयास करने पर जांच शुरू होने से आष्टी पुलिस ने जानकारी देने से इन्कार किया है. समाचार लिखे जाने तक किसी पर भी मामला दर्ज नहीं किया गया था. 

 फिर 4 की तबियत बिगडी 

प्रकृती गंभीर होनेवालों पर चंद्रपूर के अस्पताल में उपचार शुरू है. ऐसे में आज, गुरुवार को फिर से  विनोद बबन वानपाखरे (40), गणपती मल्ला देवावार (65), गणेश सुरेश मडावी (25), गंगाधर धनाजी देवाडे (35) इन 4 लोगों की भी तबियत बिघडने से उन्हे भी उपचार हेतु आष्टी के ग्रामीण अस्पताल में दाखिल किया गया है. उनपर उपचार शुरू होकर उनकी हालत स्थिर होने की जानकारी है. 

पुलिस अधिक्षक ने दी लक्ष्मणपूर को भेट 

उक्त मामले के जिले में खलबली मची है. मामले की गंभिरता को देखते हुए अहेरी के उपविभागीय पुलिस अधिकारी बजरंग देसाई ने बुधवार को आष्टी के अस्पताल में पहुंचकर मरीजों से मुलाकात की. वहीं आज गुरूवार अप्पर पुलिस अधिक्षक के साथ्ज्ञ ही दस्तरखुद पुलिस अधिक्षक अंकित गोयल यह आज शाम के दौरान घटनास्थल होनेवाले लक्ष्मणपूर में प्रत्यक्ष भेट देकर मामले की जानकारी होने की जानकारी सुत्रों से मिली है. स्वयं वरीष्ठ अधिकारियों ने इस मामले में ध्यान देने से आष्टी पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए आरोपी का नाम पतां नहीं चल पाए.