Now the crisis on crops from Toldhakali - Agriculture Department advised to be cautious

    • सेंद्रीय खेती उत्पादन बिक्री सम्मेलन का उद्घाटन

    गड़चिरोली. किसान सिंचाई क्षेत्र में वृद्धी कर सेंद्रीय सब्जीयों की बुआई करे. तथा कृषी विभाग व किसान रबी फसलों का क्षेत्र बढाने की ओर ध्यान दे, ऐसा आह्वान जिलाधिकारी दीपक सिंगला ने किया. परंपरागत कृषी विकास योजना (सेंद्रीय खेती) अंतर्गत 18 से 21 फरवरी तक सेंद्रीय खेती उत्पादन बिक्री सम्मेलन का आयोजन किया गया है.

    इस सम्मेलन का उद्घाटन आत्मा नियामक मंडल के अध्यक्ष तथा जिलाधिकारी दीपक सिंगला के हाथों किया गया. इस समय वे बोल रहे थे. इस अवसर पर जिला अधीक्षक कृषी अधिकारी भाऊसाहेब बराटे, आत्मा के प्रकल्प संचालक संदीप कराडे, उपविभागीय कृषी अधिकारी बालाजी कदम उपस्थित थे.

    प्रास्ताविक से संदीप कराडे ने सम्मेलन के आयोजन की पार्श्वभूमी बताई. उसके बाद सम्मेलन का उद्घाटन जिलाधिकारी दीपक सिंगला के हाथों किया गया. गडचिरोली तहसील नगरी के जिजाई सेंद्रीय पुरुष बचत गुट को सेंद्रीय खेती अंतर्गत अर्थसहाय्य से खरीदी किए हुए मालवाहक वाहन की चावी गुट के अनिल पाटील म्हशाखेत्री के प्रतिनिधी यज्ञेश म्हशाखेत्री को सौंपी गई. इस समय जिलाधिकारी सिंगला ने सेंद्रीय खेती गुट मार्फत उत्पादीत माल के दालन को भेट देकर निरीक्षण किया. जमीन का संवर्धन करें, दुर्गम व अतिदुर्गम क्षेत्र में मशीनीकरण से खेती करने पर ध्यान दे.

    सेंद्रीय खेती योजना के अनुषंग से बाजारपेठ निर्माण करने के लिए आत्मा व कृषी विभाग ने आवश्यक उपाययोजना करे, तथा किसानों के समस्याओं का निराकरण करे, ऐसा इस समय जिलाधिकारी दीपक सिंगला ने कहा. सेंद्रीय खेती का महत्व व सेंद्रीय उत्पादन का हर रोज उपयोग करनेवाला लाभ इस संदर्भ में संदीप कराडे ने समझाकर बताया. तथा कृषी चिकित्सालय व फल रोपवाटी का की सेंद्रीय खेती उत्पादन-बिक्री सम्मेलन को भेट देकर सेंद्रीय खेती उत्पादन का सभी नागरिक लाभ ले, ऐसा आह्वान आत्मा के प्रकल्प संचालक संदीप कराडे ने किया. 

    कार्यक्रम का आभार डा. अभिजीत कापगते ने माना. इस अवसर पर कृषी विज्ञान केंद्र के शास्त्रज्ञ, तहसील तंत्रज्ञान प्रबंधक जिजाई सेंद्रीय पुरुष बचत गुट, भूईमूग सेंद्रीय बचतगुट अहेरी, कृषी किसान मंडल कुरखेडा, ओम साई सेंद्रीय किसान गुट चामोर्शी, जय बंडेखंडी सेंद्रीय उत्पादक किसान बचत गुट एटापल्ली आदी 5 सेंद्रीय खेती बचत गुट के अध्यक्ष, सचिव, किसान उपस्थित थे.