Kurkheda, Tahsil Karyalay

कूरखेडा. मंडल डेकोरेशन व्यवसाय को अनुमति देकर इस पर निर्भर व्यवसायियों को शासन की ओर से आर्थिक मदद देने की मांग के लिए आज पूर्व जिप सदस्य सुरेंद्रसिंह चंदेल की अगुवाई में डेकोरेशन व्यवसायी और कामगारों का मोर्चा तहसील कार्यालय पर पहुंचा और तहसीलदार से विचार विमर्श कर मांग का निवेदन सौंपा है।

पिछले 7 महीने से कोरोना संक्रमण की वजह से सभी प्रकार के कार्यक्रमों पर पाबंदी है। इसके चलते मंडप डेकोरेशन का व्यवसाय पूरी तरह से ठप पडा है। इस पर निर्भर लोगों पर भूखे मरने की नौबत आ गई है। अनलाक प्रक्रिया शुरु होने के बाद चरणबध्द तरीके से अनेक व्यवसायों को अनुमति दी जा रही है। किंतु मंडप डेकोरेशन का व्यवसाय आज भी ठप पडा है। इसलिए इसे भी शुरु करने की मांग की है।

चंदेल के जनसंपर्क कार्यालय से निकला मोर्चा तहसील कार्यालय पर पहुंचा और वहां पर तहसीलदार से विचार विमर्श किया। तहसीलदार से मिलने वालों में शिवसेना के पूर्व तहसील प्रमुख आशीष काले, कुंवर लोकेंद्रशहा सयाम, अयुब खान, पार्षद पुंडलिक देशमुख, मंडल डेकोरेशन संगठना के तहसील अध्यक्ष नामदेव खुने, सचिव नरेंद्र जांभुलकर, विनोद बनाईत, रोशन सहारे, हरिराम चौरीकर, तुकाराम सहारे, कोवित वैरागडे, नरेश निखारे, अयुब पठान, दीपक बंसोड, दुर्वास होडीकर आदि का समावेश है।