ओबीसी, खुले प्रवर्ग के छात्रों को मिलेगा शालेय गणेवश !

  • जिप अध्यक्ष, शक्षिा सभापती का आश्वासन

गडचिरोली. समग्र शिक्षा अभियान अंतर्गत जिला परिषद स्कुल के कक्षा 1 से 8 वी तक एससी, एसटी, एनटी, व्हीजे तथा बीपीएल प्रवर्ग के सभी छात्रों को गणवेश वितरण किया जाता है. किंतु ओबीसी तथा खुले प्रवर्ग के छात्र गणवेश से वंचित रहते है. इन छात्रों को भी गणवेश दिया जाए, ऐसी मांग राष्ट्रीय ओबीसी महासंघ ने जिप अध्यक्ष अजय कंकडालवार, शिक्षा सभापति मनोहर पाटील पोरेटी के पास की है. इस बात को जिप अध्यक्ष, शिक्षा सभापति सकारात्मक प्रतिक्रिया देकर जिप स्कुल के 1 से 8 तक शिक्षा लेनेवाले ओबीसी तथा खुला प्रवर्ग के सभी छात्रों को गणवेश देने का आश्वास शिष्टमंडल ने दिया. 

जिला परिषद स्कुल में अधिकांश गरीब परिवार के छात्र शिक्षा लेते है. इसमें सभी समुदाय के छात्रों का समावेश रहता है. समग्र शिक्षा अभियान अंतर्गत जिप स्कुल के कक्षा 1 से 8 वी तक के एससी, एसटी, एनटी, व्हीजे तथा बीपीएल प्रवर्ग के सभी छात्रों को गणवेश दिया जाता है. किंतु ओबीसी तथा खुले प्रवर्ग के विद्यार्थी गणवेश से वंचित रहते है. इस वर्ष कोरोना से सरकारी तिजोरी पर परिणाम हुआ है. जिला परिषद को प्राप्त होनेवाले अनुदान में कटौती होने की संभावना है. किंतु छात्रों को प्राथमिकता देकर ओबीसी तथा खुले प्रवर्ग के छात्रों को गणवेश देने की मांग राष्ट्रीय ओबीसी महासंघ ने जिप अध्यक्ष तथा शिक्षा सभापति के पास की.

उक्त मांग को सकारात्मक प्रतिक्रिया देते जिप अध्यक्ष अजय कंकडालवार तथा शिक्षा सभापति मनोहर पाटील पोरेटी ने ओबीसी तथा खुले प्रवर्ग के छात्रों को गणवेश के लिए निश्चित रूप से वित्तीय प्रावधान किया जाने का आश्वासन शिष्टमंडल को दिया. शिष्टमंडल  में राष्ट्रीय ओबीसी महासंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रा. शेषराव येलेकर, पूर्व जिप उपाध्यक्ष जीवन पाटील नाट, जिप सदस्य विनोद लेनगुरे, संजय चरडूके, राष्ट्रीय ओबीसी महासंघ के जिलाध्यक्ष दादाजी चुधरी, सचिव प्रा. देवानंद कामडी, कार्याध्यक्ष विनायक बांदुरकर उपस्थित थे.