medical-oxygen-plants
प्रतीकात्मक तस्वीर

    गडचिरोली. कोरोना मरीजों को आवश्यकता नुसार आक्सीजन उपलब्ध नहीं होने से उनकी जान को खतरा निर्माण हो रहा है. आक्सीजन के अभाव में अनेकों ने दम भी तोड़ा है. गड़चिरोली जिले में यह स्थिती निर्माण न हो इसके लिए गड़चिरोली शहर के प्रमुख 2 अस्पताल समेत अन्य 8 तहसील मुख्यालयों में आक्सीजन प्लांट तैयार किया जाएगा.

    इस संदर्भ में स्वास्थ्य विभाग ने प्रक्रिया आरंभ कर दी है. गत सप्ताह में ही पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने आक्सीजन संदर्भ में जायजा लिया था. बैठक में विधायक डा. होली व विधायक कृष्णा गजबे ने स्थानिय विकास निधी से निधि देने की घोषणा की थी.

    मरीजों को होगी सुविधा : डा. सालवे

    वैद्यकीय क्षेत्र से जुड़े डा. अमित सालवे ने कहा कि, पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने गत सप्ताह में जिले में कोरोना स्थिति का जायजा लिया था. जिसमें जिला मुख्यालय समेत जिले की अन्य 8 तहसीलों में आक्सीजन प्लांट तैयार करने की बात कही. जिसके अनुसार जिला प्रशासन द्वारा आक्सीजन प्लॉंट तैयार करने की प्रक्रिया आरंभ की है. प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद जिले के कोरोना मरीजों को समय पर आक्सीजन मिलेगा और उन्हें जान गवाने की नौबत नहीं आएगी.

    कारगर साबित होंगे : नाथानी

    शिक्षा क्षेत्र से जुड़े अजिज नाथानी ने कहा कि, राज्य के आखरी छोर पर बसे गड़चिरोली जिले में दिन ब दिन कोरोना बाधितों की संख्या बढ़ती जा रही है. ऐसे में जिला प्रशासन द्वारा जिला मुख्यालय में दो और अन्य 8 तहसीलों में आक्सीजन प्लांट तैयार करने की प्रक्रिया आरंभ करने से जिले के मरीजों के लिए यह आक्सीजन प्लांट कारगर साबित होंगे.