Sironcha-Wardha bus service stopped

  • दीपावली त्यौहार में भी यात्रियों का अल्प प्रतिसाद

चामोर्शी. ‘यात्रियों की सेवा में एसटी’ यह घोषणा वाले राज्य परिवहन निगम के बसों को यात्री नहीं मिलने से रापनि को घाटा उठाना पड रहा है, ऐसी स्थिति दिखाई दे रही है। फिलहाल एसटी बसों को यात्रियों का अल्प प्रतिसाद दिखाई मिल रहा है। जिससे अनेक बसे खाली दौड रहे है। 

साल का सबसे बडा त्यौहार दीपावली होता है.।इसके लिए प्रत्येक व्यक्ति अपने अपने गांव जाते है। इसके लिए 15 दिनों से ही यात्रियों की चहल-पहल रहती है। यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए रापनि प्रतिवर्ष किराये में वृध्दि करता था किंतु इस वर्ष नहीं की। इसके बावजूद त्यौहारों में भी रापनि को यात्री नहीं मिलने स्थिति दिखाई दे रही है।

राज्य परिवहन निगम की ओर से यात्रियों को असुविधा न हो, इसलिए अधिक बसे छोडी जाती है। किंतु इस वर्ष कोरोना महामारी का संकट आने से अनेक लोग दुपहिया, निजी वाहन से सफर करते नजर आ रहे है। अनेक यात्री कोरोना संक्रमण के भय से एसटी में सफर करने में आगे-पीछे देख रहे है। फिलहाल सभी तरह के निजी बसेस भी शुरू हुए है। मात्र इसमें भ्भी आवश्यक मात्रा में यात्री नहीं दिखाई दे रहे है। 

एसटी के आए ‘बुरे दिन’

फिलहाल एसटी को बुरे दिन आए है। ग्रामीण क्षेत्र में स्कूल बंद होने से बसे जाते नहीं दिखाई दे रहे है। केवल मुख्य मार्ग पर ही बससेवा शुरू है। ग्रामीण क्षेत्र के यात्री फिलहाल खरीफ सीजन की फसल समेटने के कार्य में व्यस्त होने से उन्होंने भी बाहर गांव जाना टाला है। जिससे फिलहाल एसटी की ओर यात्रियों ने पीठ दिखाने की स्थिति होकर एसटी को बुरे दिन आने की बात कहीं जा रही है।