ठाणेगांव-वैरागड मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे, पीडब्ल्यूडी  की अनदेखी

आरमोरी. ठाणेगांव से कोरची राज्य महामार्ग के ठाणेगांव से वैरागड तक सड़क की हालत पूरी तरह से खस्ता हो गई है। इस मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे दिखाई देते है जिससे दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। इसके बावजूद लोकनिर्माण विभाग ने आज तक इस ओर ध्यान नहीं दिया है। इसलिए लोगों का आरोप है कि विभाग संभावता किसी दुर्घटना का इंतजार कर रहा है। 

 इस मार्ग से कोरची-छत्तीसगढ से भारी वाहनों का आवागमन लगा रहता है। भारी वाहनों के यातायात के चलते सडक पर का डामर व मुरूम निकलकर सडक पर बडे बडे गड्ढे हो गये है। जिससे यह मार्ग दुर्घटना को निमंत्रण देनेवाला साबित हो रहा है। गड्ढों का आकार देखते हुर कोई चौपहिया वाहन उक्त गड्ढे से गुजरने पर वाहन पलटने का खतरा है। अनेक दुपहिया सवार उक्त गड्ढों के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो रही है।

रात का सफर मुश्किल

ठाणेगाव-वैरागड मार्ग पर निर्माण हुए गड्ढों के कारण रात के समय वाहन चलाना काफी तकलीफ भरा होता है। रात के समय  सडक के गड्ढे वाहन धरकों को दिखाई नहीं पडते है। जिससे दुर्घटना का खतरा रहता है। इसकी वजह से वाहन चालकों को किसी सर्कस के बाजीगर की भांति वाहनों को ड्राईव करना पडता है।

लगातार होता है वाहनों का आवागमन 

ठाणेगांव से सीधे कोरची और आगे जाकर छत्तीसगढ़ को मिलने से इस मार्ग से 24 घंटे वाहनों का आवागमन लगा रहता है। वाहन के लोडेड माल की तुलना में सड़कों की क्षमता कम होने से और हाल के बरसात की वजह से सड़क की हालत खस्ता हो गई है। इसलिए मार्ग के मरम्मत की मांग की जा रही है।