A man arrested for killing elder brother in Thane

गडचिरोली. एटापल्ली तहसील के प्राची हत्याकांड मामले में फरार आरोपी को 10 दिनों के बाद बोलेपल्ली पुलिस ने धरदबोचा है. उसे 22 जून को अहेरी के न्यायालय में पेश करने पर 6 दिन की पुलिस हिरासत सुनाई गई है. गिरफ्तार आरोपी का नाम जयदेव निरंजन सरदार (22) है.

मुलचेरा तहसील के बोलेपल्ली पुलिस मदत केंद्र अंतर्गत आनेवाले पल्लीगुडम निवासी प्राची बारसागडे का 12 जून को गांव समिपस्य खेत परिसर में शव मिला था. इस मामले में उसके प्रेमी ने धक्का मारने से उसका कुएं में गिरकर मृत्यू होने की बात सामने आयी. प्रेमप्रकरण में यह घटना होने की जानकारी सामने आयी. पुलिस द्वारा दिए गए जानकारी के अनुसार जयदेव निरंजन सरदार (22) व पवन दयाल जुलुमे (22) इन दोनों युवकों का पल्लिगुडम निवासी 2 युवतियों के साथ प्रेमसंबंध थे. यह दोनों पुल्लीगुडम में उक्त अपनी प्रेमिकाओं से मिलने गए थे. पुल्लीगुडम से करीब 1 किमी दूरी पर स्थित खेत परिसर में उनकी भेट हुई. यह दोनों युगल एक ही परिसर में मात्र अलग-अलग जगह खडे थे. प्राची व उसका प्रेमी जयदेव इनमें विवाद होकर इस बिच जयदेव ने प्राची को कुएं में धकेलने की जानकारी पवन व छकुली ने दी. मात्र संदग्धि आरोपी फरार था. अंतता 10 दिनों के बाद बोलेपल्ली मदद केंद्र के प्रभारी अधिकारी श्रीकांत चव्हाण ने इस मामले में फरार आरोपी को गिरफ्तार किया है. 

जयदेव सरदार यह 12 जून से फरार था. वह तेलंगाना राज्य से अपने परिवार से मिलने आनेवाला था. इसकी जानकारी बोलेपल्ली पुलिस को मिलते ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया. उसे अहेरी के न्यायालय में पेश करने पर न्यायालय से उसे 6 दिन की पुलिस हिरासत सुनाई है. जिससे प्राची हत्याकांड मामले पर से पर्दा उठनेवाला है. प्राणहिता पुलिस मुख्यालय के अतिरक्ति पुलिस अधीक्षक मनीष कलवानीया, एटापल्ली के उपविभागीय पुलिस अधिकारी सुदर्शन पाटील के मार्गदर्शन में बोलेपल्ली पुलिस मदद केंद्र के प्रभारी अधिकारी श्रीकांत चव्हाण मामले की जांच कर रहे है.