दूकान चाल के किराया पर पुन: विचार करें; पूर्व नगराध्यक्ष डा. मोहबंसी की मांग

    कुरखेड़ा. नगरपंचायत की ओर से शहर के 8 व्यावसायिक चाल किराए पर देने के लिए हाल ही में जाहिर नीलामी प्रक्रिया चलाई गई. परंतु इस समय अव्यावहारिक भारी मासिक किराया निश्चित किए जाने से नीलामी में किसी भी व्यापारी ने हिस्सा नहीं लिया.

    जिससे नगरपंचायत प्रशासन इस किराए दर का पुन: विचार करें, ऐसी मांग पूर्व नगराध्यक्ष डा. महेंद्रकुमार मोहबंसी ने की है. स्थानीय गांधी चौक में पुराने पोस्ट आफिस की जगह 7 चौरस मीटर क्षेत्रफल के 8 व्यावसायिक चाल का निर्माण सरकारी निधि से नगरपंचायत की ओर से किया गया है. निर्माण कार्य पूर्ण होकर तकरीब 3 वर्ष का कालावधि हो चुका है.

    हाल ही में 3 वर्ष के कालावधि के बाद यहां चाल की नीलामी प्रक्रिया चलाई गयी. मात्र बाजार पेठ के मुख्य मार्ग से अंदर एक ओर में यह दूकानों चाल होने पर व सिर्फ 7 चौरस मीटर क्षेत्रफल के इन चाल का मासिक किराया अव्यावहारिक रूप से 8 हजार 18 रुपये निश्चित किया जाने से नीलामी में किसी भी व्यापारी ने हिस्सा नहीं लिया. जिससे नीलामी प्रक्रिया नहीं हुई. चाल की नीलामी न होने पर नगर पंचायत का उत्पन्न डूबनेवाला है. जिससे व्यावहारिक रूप से पुन:विचार कर व्यावसायिकों के हित में मासिक किराया निश्चित कर फिर से नीलामी प्रक्रिया चलाई जाए, ऐसी मांग डा. मोहबंसी ने की है. 

    पुराने व्यावसायिकों को प्राथमिकता दें 

    कुरखेड़ा नपं के अंतर्गत बाजार वाड़ी में अनेक वर्षों से लकड़ी के ठेले पर व्यवसाय करनेवाले छोटे मामूली व्यावसायिकों के ठेले हटाए गए. उस जगह पर नए रूप से पक्के चाल का निर्माण किया गया है. उक्त चाल मानवी दृष्टिकोण से इसके पूर्व जिन व्यावसायिकों के यहां ठेले थे, उसी व्यावसायिकों को प्राथमिकता क्रम से व छोटे व्यावसायिकों के हित में किराया तत्व पर उपलब्ध करा दें, ऐसी मांग डा. महेंद्रकुमार मोहबंसी ने की है.