एटापल्ली तहसील में सड़कों की हालत खस्ता, भारी वाहनों का आवागमन बदस्तूर जारी

    एटापल्ली. तहसील में इन दिनों सड़कों की हालत पूर्णत: खस्ताहाल हुई है. जिससे इन सड़‍कों पर से आवागमन करने में लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं सड़कों के मरम्मत की ओर लोक निर्माण विभाग की अनदेखी हो रही है, वहीं दुसरी ओर यहां सुरजागड लोहप्रकल्प के भारी वाहन सड़कों पर से दौड़ रहे है. जिस कारण सड़‍क क हालत और बदत्तर हो रही है. मात्र इस ओर संबंधित विभाग की अनदेखी हो रही है. 

    एटापल्ली तहसील आदिवासी बहुल तथा पिछड़ी तहसील है. इस तहसील के विकास को लेकर हमेशा ही पिछड़ापन रहा है. जिस कारण स्वाधिनता के 7 दशक बाद भी यहां विकासधारा नहीं पहुंच पायी है. यहां बुनियादीं सुविधाओं का अभाव है. अनेक गांवों तक पहुचने के लिए सड़के तक नहीं है. तथा जो सड़के है वह खस्ताहाल स्थिती में है. जिससे नागरिकों को आवागमन करना मुश्किल हो रहा है. इन सड़कों के मरम्मत की ओर संबंधित विभाग की अनदेखी हो रही है.

    मात्र एटापल्ली तहसील के सुरजागड़ में लोह खनिज उत्खनन के हलचले तेज हुई है. जिसके चलते यहां भारी वाहनों का आवागमन बढ़ा है. नितदिन यहां के खस्ताहाल सड़कों पर से अनेक भारी वाहन दौड़ रहे है. जिससे यह भारी वाहन यहां से जर्जर सड़क को और दयनिय बनाने का कार्य कर रहे है. बतां दे कि, कुछ वर्ष पूर्व लोहअयस्क की यातायात करनेवाले ट्रक व रापनि के बस के बिच टक्कर हुई थी. जिसमें 5 लोगों की जाने भी चली गई थी और 11 लोग गंभीर घायल हुए थे.

    इसके बावजूद एटापल्ली तहसील में लोहप्रकल्प के भारी वाहनों का आवागमन जारी है. इस मार्ग चौड़ाईकरण करने के लिए प्रशासकीय मंजूरी मिली है, मात्र अबतक निर्माणकार्य को प्रारंभ नहीं किया गया है. जिससे यहां के आदिवासी नागरिकों में रोष व्याप्त है. इस ओर ध्यान देने तथा सड़क की मरम्मत करने की मांग नागरिकों द्वारा की जा रही है.